CM Yogi पर अखिलेश यादव ने कसा तंज, कहा - जो लैपटाप चलाना नहीं जानते, वह भला क्यों बांटें

Akhilesh Yadav Unnao Visit अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव का आगाज बुधवार को उन्नाव से किया। वे यहां स्व. मनोहर लाल की प्रतिमा का अनावरण करने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान यहां उनके साथ नरेश उत्तम भी मौजूद रहे।

Shaswat GuptaThu, 22 Jul 2021 01:10 PM (IST)
स्व. मनोहर लाल की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

उन्नाव, जेएनएन। Akhilesh Yadav Unnao Visit समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री पर एक बार फिर तीखा हमला बोला है। अपने उन्नाव दौरे के दौरान अखिलेश ने सरकार पर एक के बाद एक कई आराेप गढ़े थे। पंचायत चुनाव में हुई घटनाओं का हवाला देते हुए उन्होंने बुधवार को यहां भारतीय जनता पार्टी पर भी कटाक्ष किया। वहीं, कोरोना संक्रमण के समय में हुई मौतों के विषय में अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा कभी सही आंकड़ा नहीं देगी कि कितने लोगों की मौत कोरोना से हुई है। 

महिलाओं के कपड़े खींचने तक से नहीं चूके अनुशासित भाजपाई: समाजवादियों को प्रशासन से कोई शिकायत नहीं है। शिकायत इसलिए नहीं है, क्योंकि अभी कुछ दिन पहले जिला पंचायत, ब्लाक प्रमुख चुनाव में देख लिया है। जिस ईमानदारी से उन्होंने चुनाव कराए, पूरे देश और दुनिया ने देखा है। भाजपा के अनुशासित सिपाही इस सीमा तक पहुंच गए कि महिलाओं के कपड़े तक खींचने से नहीं चूके। 

ली चुटकी, प्रोटोकाल टूटे तो दोष प्रशासन का: अखिलेश ने कहा कि कार्यक्रम का यह स्वरूप इसलिए है, क्योंकि प्रशासन ने सिर्फ 50 लोगों की ही अनुमति दी है और 50 लोग तो सिर्फ मेरी सुरक्षा में हैं। सौ लोगों को प्रशासन ने यहां भेज दिया। कुछ और, जबकि बाकी मीडिया के लोग हैं। अब इसके बाद प्रोटोकाल टूटे तो दोष प्रशासन का होगा, उनका नहीं। इससे पहले कार्यक्रम आयोजक पूर्व विधायक रामकुमार ने भी प्रशासन की तरफ से कार्यक्रम के बदलाव आदि को लेकर लगाई गई बंदिशों का जिक्र किया।

पत्रकार बहादुर, खबरों से उन्हें धो दिया: पूर्व सीएम ने कहा कि पत्रकारों ने बहादुरी का काम किया। उन्होंने अपमानित किया, लेकिन तुमने अपनी खबरों से उन्हें धो दिया। यह सबसे बड़ी उपलब्धि है। मैं आपको धन्यवाद देता हूं। 

मुख्यमंत्री योगी पर हमला कर भाजपा पर निशाना: सपा अध्यक्ष ने कहा कि सीएम ने लैपटाप नहीं बांटे, क्योंकि वह लैपटाप चलाना नहीं जानते और वो क्या करना जानते हैं, ये नहीं बताएंगे। बोले, किसानों और जनता के साथ धोखा हुआ है। किसानों से आय दोगुनी करने का भाजपा ने वादा किया था, लेकिन साढ़े चार साल में कुछ नहीं किया। अब सरकार को किसानों की आय तो घोषित करनी चाहिए, जिससे उनकी वास्तविक आय पता चले। देश में बड़े पैमाने पर बेरोजगारी, महंगाई बढ़ी है। भाजपा ने अपना संकल्प पत्र कूड़ेदान में फेंक दिया है। कोरोना से लाखों गरीबों की जान चली गई, उन्हें इलाज नहीं मिला, पर सरकार राज्यसभा में बयान दे रही है कि आक्सीजन की कमी से कोई भी मौत नहीं हुई। इन मौतों की जिम्मेदार, केवल भाजपा सरकार है। सबसे सस्ती दवाओं की उपलब्धता ख्वाब ही रहा, बल्कि उनकी ब्लैक में बिक्री हुई। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.