बिजौली औद्योगिक क्षेत्र व ग्रोथ सेण्टर के बदलेंगे दिन

0 ऊबड़-खाबड़ सड़क, जर्जर नालियों व उजाड़ पार्क से मिलेगी मुक्ति 0 साफ-सफाई का हो सकेगा इन्तजाम झाँसी

JagranTue, 07 Dec 2021 11:26 PM (IST)
बिजौली औद्योगिक क्षेत्र व ग्रोथ सेण्टर के बदलेंगे दिन

0 ऊबड़-खाबड़ सड़क, जर्जर नालियों व उजाड़ पार्क से मिलेगी मुक्ति

0 साफ-सफाई का हो सकेगा इन्तजाम

झाँसी : उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए बिजौली औद्योगिक क्षेत्र व ग्रोथ सेण्टर को दुर्दशा से छुटकारा मिलने की उम्मीदें बढ़ गई हैं। इन दोनों क्षेत्रों को नगर निगम के सुपुर्द करने की तैयारी शुरू हो गई है। इसके लिए 16 करोड़ रुपये का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। यदि सब कुछ ठीक रहा तो अगले साल अप्रैल माह से यहाँ की व्यवस्थाएं बदल जाएंगी।

झाँसी में औद्योगिक विकास के सपने को साकार करने के लिए लगभग ढाई दशक पहले ़िजला उद्योग केन्द्र द्वारा बिजौली औद्योगिक क्षेत्र का विकास किया गया था। लगभग 200 एकड़ में फैले इस भू-भाग पर कई औद्योगिक इकाइयाँ स्थापित की गई। वर्ष 2000 में यहाँ ग्रोथ सेण्टर की स्थापना भी की गई। यूपीएसआइडीसी ने 400 एकड़ भूमि पर 3 फे़ज में इसका विकास किया। यहाँ भी कई फैक्ट्रि धड़धड़ाने लगीं। उद्यमियों की सुविधा के लिए पानी, बिजली व सड़क आदि का भी विकास किया गया, लेकिन देखरेख के लिए अतिरिक्त बजट का अभाव होने के कारण यह सुविधाएं मिट्टी में मिल गई। साफ-सफाई की भी कोई व्यवस्था नहीं हो सकी। इसे लेकर उद्यमियों की शिकायत पर कई बार मण्डलायुक्त व ़िजलाधिकारी ने यहाँ का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं में सुधार के निर्देश दिए, लेकिन सार्थक पहल नहीं हो पाई। अब इन दोनों औद्योगिक क्षेत्र को नगर निगम के सुपुर्द करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। नगर निगम ने यहाँ का सर्वे कर नाले-नाली, सड़क व पार्क आदि का विकास करने के लिए 16 करोड़ का एस्टिमेट दिया है। विभाग ने शासन से धनराशि की डिमाण्ड की है। माना जा रहा है कि अप्रैल 2022 से यहाँ नई व्यवस्था लागू की जा सकती है।

ग्रोथ सेण्टर की स्थिति

वर्ष 2000 में योजना का फेस वन लागू किया गया। लगभग 126 एकड़ भूखण्ड पर 90 औद्योगिक व 256 आवासीय प्लॉट काटे गए। फे़ज-2 में 208 औद्योगिक तथा लगभग 460 आवासीय प्लॉट की बिक्री शुरू की गई। यह भूखण्ड भी बिक गए, लेकिन इकाइयाँ संचालित होने की रफ्तार सुस्त बनी रही। फे़ज-3 में 50 एकड़ भूखण्ड पर आवासीय भूखण्ड उपलब्ध कराने की योजना पर काम चल रहा है।

फोटो हाफ कॉलम

:::

इन्होंने कहा

'बिजौली औद्योगिक क्षेत्र व ग्रोथ सेण्टर में उद्यमियों को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने व साफ-सफाई की नियमित व्यवस्था सुनिश्चित कराने के लिए दोनों क्षेत्रों को नगर निगम के सुपुर्द करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। कोई अड़चन नहीं आई तो अगले वर्ष अप्रैल माह से नगर निगम द्वारा इस क्षेत्र की जिम्मेदारी सम्भाली जाएगी।'

0 मनीष चौधरी, उपायुक्त उद्योग

'बिजौली औद्योगिक क्षेत्र व ग्रोथ सेण्टर को हैण्डओवर लेने की प्रक्रिया की जा रही है। यहाँ का सर्वे कराते हुए लगभग 16 करोड़ का एस्टिमेट बनाया गया है। धनराशि प्राप्त होते ही दोनों क्षेत्रों में विकास कार्य कराने के साथ सफाई व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाएगी।'

0 शादाब असलम, अपर नगर आयुक्त

फाइल : राजेश शर्मा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.