सोमवार से इमरजेंसी सेवाओं पर पड़ सकता है असर

फोटो 4 बीकेएस 7 झाँसी : विधान परिषद सभापति से मिलते जूनियर डॉक्टर। ::: - जूडा ने प्रधानाचार्य

JagranPublish:Sat, 04 Dec 2021 07:34 PM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 09:05 PM (IST)
सोमवार से इमरजेंसी सेवाओं पर पड़ सकता है असर
सोमवार से इमरजेंसी सेवाओं पर पड़ सकता है असर

फोटो 4 बीकेएस 7

झाँसी : विधान परिषद सभापति से मिलते जूनियर डॉक्टर।

:::

- जूडा ने प्रधानाचार्य को दी सहयोग न करने की चेतावनी

- विधान परिषद सभापति से सदन में मुद्दा उठाने की माँग

झाँसी : काउंसिलिंग की माँग को लेकर कार्य बहिष्कार कर रहे महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलिज के जूनियर डॉक्टर किसी भी कीमत पर झुकने के मूड में नहीं हैं। ओपीडी के बाद अब उन्होंने इमरजेंसी सेवाओं में भी किसी प्रकार का सहयोग न करने का मन बन लिया है।

महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलिज के जूनियर डॉक्टर इन दिनों कार्य बहिष्कार आन्दोलन कर रहे हैं। वह मेडिकल कॉलिज परिसर में धरने पर बैठे हैं। शुरूआत में उन्होंने अपने आन्दोलन से ओपीडी और इमरजेंसी सेवाओं को मुक्त रखा था, लेकिन बाद में ओपीडी को भी आन्दोलन में शामिल कर लिया। हालाँकि सीनियर डॉक्टर मोर्चा सँभाले हैं और अस्पताल आने वाले मरी़जों के सादे कागज पर पर्चा बनाकर उपचार कर रहे हैं। आज जूनियर डॉक्टर ने प्रधानाचार्य डॉ. एनएस सेंगर से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपते हुये सोमवार से इमरजेंसी सेवाओं में किसी प्रकार के सहयोग न करने की चेतावनी दी।

विप सभापति ने दिया हरसम्भव मदद का भरोसा

रे़िजडेण्ट डॉक्टर्स असोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. निखिल मिश्रा के नेतृत्व में जूनियर डॉक्टर्स का प्रतिनिधिमण्डल आज विधान परिषद सभापति मानवेन्द्र सिंह से उनके आवास पर मिला। जूडा ने उन्हें अपनी समस्याओं और काउंसलिंग न होने से हो रही परेशानियों से अवगत कराते हुये सदन में मुद्दा उठाने की माँग की। विप सभापति ने आश्वासन दिया कि नियमानुसार जो भी सम्भव होगा जूडा की मदद की जायेगी।

बन्द कराये पर्चा काउण्टर

जूनियर डॉक्टर ने शनिवार को भी मरी़जों के पर्चे नहीं बनने दिये। सुबह 8 बजे से पर्चा काउण्टर पर मरी़जों की लाइन लग गयी थीं और लगभग 90 पर्चे बन गये थे। इसी बीच वहाँ पहुँचे जूनियर डॉक्टर ने काउण्टर बन्द करवाते हुये स्टाफ को हड़काया। इसके बाद पूरे समय पर्चा काउण्टर बन्द रहा।

फाइल : मुकेश त्रिपाठी