सड़क पर पड़े थे एक पॉलिथीन में तीन भ्रूण, गाड़ी ने रौन्दा

फोटो : 29 एसएचवाई 1 झाँसी : नई तहसील के सामने इस जगह पर पड़े थे भ्रूण। -जागरण ::: 0 नई तहसील के

JagranMon, 29 Nov 2021 07:26 PM (IST)
सड़क पर पड़े थे एक पॉलिथीन में तीन भ्रूण, गाड़ी ने रौन्दा

फोटो : 29 एसएचवाई 1

झाँसी : नई तहसील के सामने इस जगह पर पड़े थे भ्रूण। -जागरण

:::

0 नई तहसील के सामने वाली सड़क पर एक मेडिकल स्टोर के सामने पड़े थे

0 संचालक ने सुबह 9 बजे झाड़ू लगायी तब नहीं पड़ी थी पॉलिथीन

0 काली पॉलिथीन को फोर-व्हीलर कुचलती निकली तो उसके अन्दर से निकले भ्रूण

झाँसी : मानवता को शर्मसार करने वाली घटना को जिसने भी देखा, उसका दिल द्रवित हो उठा। वह उनको कोसने लगे, जिन्होंने यह घिनौना काम किया। एक काली पॉलिथीन के अन्दर से उस समय एक साथ 3 भ्रूण निकल आए, जब उनको रौन्दता हुआ चार-पहिया वाहन निकला। भ्रूण को देखकर क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गयी। सूचना पर पहुँची पुलिस ने तीनों भ्रूण को पोस्टमॉर्टम के लिए मेडिकल कॉलिज भेज दिया।

आरटीओ ऑफिस से शिवाजी नगर पानी की टंकी को जाने वाली सड़क पर नई तहसील की बाउण्ड्री से लगी हुयी नगर निगम की लाइन से दुकानें बनी हुयी हैं। यहाँ पर दो मेडिकल स्टोर के साथ ही एक जनरल स्टोर है। पुलिस को सुबह 9.25 बजे सूचना मिली कि सड़क पर पड़ी एक काली पॉलिथीन के अन्दर भ्रूण हैं, जिनको एक गाड़ी कुचलती हुयी चली गयी है। एक साथ तीन भ्रूण की सूचना मिलते ही मौके पर सीओ (सिटि) राजेश कुमार राय, नवाबाद प्रभारी निरीक्षक सुधाकर मिश्रा फोर्स के साथ पहुँचे। मेडिकल स्टोर के सामने घटना होने पर पुलिस ने उसके संचालक से पूछताछ की। संचालक ने बताया कि उसने रो़ज की तरह आज सुबह 9 बजे दुकान खोली और दुकान के अन्दर के साथ ही बाहर सड़क की पटरी पर भी झाड़ू लगायी। लेकिन इस दौरान यहाँ पर कोई पॉलिथीन नहीं पड़ी थी। जब वह अन्दर की सफाई करके काउण्टर पर आया तो इसी दौरान एक चार-पहिया वाहन निकला और सामने पड़ी काली पॉलिथीन के अन्दर से माँस के लोथड़े ऩजर आए। पहले तो वह समझा कि कोई माँस के अवशेष डाल गया, लेकिन जब गौर से देखा तो उसके अन्दर से नवजात बच्चे नजर आए। इस पर कुछ ही देर में वहाँ पर भीड़ लग गयी। पुरुषोत्तम नामक दुकानदार ने पुलिस को सूचना दी, जिस पर मण्डी चौकी पुलिस ने तीनों शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। इस सम्बन्ध में सीओ (सिटि) ने बताया कि कोई पॉलिथीन के अन्दर भ्रूण फेंक गया। किसने भ्रूण फेंके, इसकी जाँच की जा रही हैं।

कहाँ से आए भ्रूण?

मेडिकल स्टोर संचालक ने सुबह 9 बजे झाड़ू लगायी तब पॉलिथीन नहीं पड़ी थी, लेकिन जब वह दुकान की सफाई करने के बाद 9.15 बजे काउण्टर पर आया, एक गाड़ी निकाली और पॉलिथीन को रौन्दती हुयी निकल गयी। तब पता चला कि पॉलिथीन के अन्दर भ्रूण हैं। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि इन 15 मिनट के अन्दर भ्रूण वाली पॉलिथीन कहाँ से आई? पहले माना जा रहा था कि कोई कुत्ता साइड में पड़े भ्रूण की पॉलिथीन को खींचकर सड़क पर ले आया, लेकिन इस दौरान वहाँ पर कोई जानवर ऩजर नहीं आया। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि कोई भ्रूण को लेकर जा रहा होगा, और इस दौरान उसके हाथ से पॉलिथीन गिर गयी। गाड़ी ने उसको कुचला तो भ्रूण सामने आ गए।

तीनों भ्रूण के अलग-अलग थे आकार

पॉलिथीन के अन्दर से निकले एक भ्रूण का आकार बड़ा था, जिसको लगभग 6 माह का बताया जा रहा है, जबकि दो भ्रूण छोटे थे, और इनका भी आकार अलग-अलग था। एक को 5 माह का तो दूसरे को 4 माह का माना जा रहा है।

आसपास न तो नर्सिग होम हैं न ही अस्पताल

एक साथ 3 भ्रूण मिलने पर प्रथम दृष्टया माना जा रहा है कि यह भ्रूण हत्या किसी नर्सिग होम या अस्पताल में की गई है। इनको फेंकने जा रहे थे, तभी पॉलिथीन गिर गयी और पोल खुल गयी। पुलिस ने घटना स्थल के आसपास नर्सिग होम व अस्पताल की तलाश की, लेकिन वहाँ पर कोई नहीं मिला।

सीसीटीवी कैमरों को खंगला जा रहा

यह घटना जिस जगह हुयी है वह नगर निगम की दुकान नम्बर 24 के सामने है। यहाँ पर सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हैं, जबकि इसके आगे दुकान नम्बर 33 व 34 में दोनों तरफ कैमरे लगे हैं, लेकिन वह इस स्थान को कवर नहीं कर रहे हैं। इन कैमरों से यह जरूर पता चल सकता है कि यदि कोई हाथ में काली पॉलिथीन लेकर जा रहा है तो वह दोनों तरफ से ऩजर आ सकता है। जिस साइड में यह पॉलिथीन पड़ी थी उससे अन्दा़जा लगाया जा रहा है कि आरोपी आरटीओ ऑफिस की तरफ से शिवाजी नगर पानी की टंकी की तरफ जा रहा होगा।

29 इरशाद-1

समय : 7.15 बजे

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.