इ़जरायल की कम्पनि ने गायब होने की अटकलों पर लगाया विराम

25 नवम्बर को प्रकाशित खबर की कटिंग ::: लोगो : खबर का असर ::: महानगर पेयजल महायोजना 0 जल नि

JagranSun, 28 Nov 2021 01:00 AM (IST)
इ़जरायल की कम्पनि ने 'गायब' होने की अटकलों पर लगाया विराम

25 नवम्बर को प्रकाशित खबर की कटिंग

:::

लोगो : खबर का असर

:::

महानगर पेयजल महायोजना

0 जल निगम को लिखा पत्र, 6 माह का माँगा ऐक्सटेंशन

0 अब तक किए गए कार्य और भविष्य के प्लैन का रिपोर्ट कार्ड भी किया पेश

0 कोरोना के कारण कार्य प्रभावित होने की बात स्वीकारी

झाँसी : महानगर की प्यास बुझाने वाली पेयजल महायोजना पर काम कर रही इ़जरायल की कम्पनि ने गायब होने की अटकलों पर विराम लगा दिया है। कम्पनि ने जल निगम के मुख्य अभियन्ता को पत्र लिखकर अब तक किए गए कार्य का रिपोर्ट कार्ड पेश किया है तो जून 2022 तक कार्य पूर्ण करने का दावा भी किया है। कम्पनि ने कोरोना के कारण आपूर्ति में देरी को स्वीकारते हुए 6 माह का ऐक्सटेंशन भी माँगा है।

अगले 30 साल तक महानगर की प्यास बुझाने वाली पेयजल महायोजना को ़जमीन पर उतारने का काम इ़जरायल की कम्पनि तहल द्वारा किया जा रहा है। कम्पनि द्वारा दो हिस्सों में काम कराया जा रहा है। माताटीला बाँध से बबीना तथा बबीना से झाँसी तक पानी लाने के लिए पाइप लाइन बिछाई जा रही है तो दूसरे चरण में महानगर में वितरण पाइप लाइन बिछाने के साथ टंकी व सीडब्लूआर का निर्माण कराया जाना है। इ़जरायल की कम्पनि द्वारा काम शुरू करा दिया, लेकिन कोरोना के कारण काम की रफ्तार धीमी हो गई। जनवरी के बाद से कम्पनि ने पाइप लाइन की आपूर्ति नहीं की। जल निगम के अनुसार कम्पनि पर अगस्त, सितम्बर व अक्टूबर माह में लगभग 3.25 करोड़ की पेनल्टि भी लगा दी। जल निगम का आरोप था बार-बार पत्र लिखने के बाद भी कम्पनि के प्रतिनिधि उत्तर नहीं दे रहे हैं। 'जागरण' ने 25 नवम्बर के अंक में 'महानगर को अधर में छोड़ इ़जरायल की कम्पनि फुर्र' शीर्षक से खबर प्रकाशित की, जिसके बाद कम्पनि के अधिकारियों ने तत्काल जल निगम के अफसरों से सम्पर्क कर काम चालू होने का दावा पेश किया। तहल कम्पनि के प्रोजेक्ट मैनेजर राजीव कुमार ने जल निगम को पत्र लिखकर कम्पनि द्वारा अब तक किए गए कार्यो का लेखा-जोखा बताया तो कोविड के कारण सामग्री आपूर्ति में आई बाधा की जानकारी दी। उन्होंने 6 माह का ऐक्सटेंशन भी माँगा है। इस पर लगभग सहमति भी बन गई है। अब तक कम्पनि को जून 2022 तक कार्य पूर्ण करना था, जबकि ऐक्सटेंशन मिलने के बाद दिसम्बर 2022 तक का समय मिल जाएगा। हालाँकि कम्पनि के प्रोजेक्ट मैनेजर ने जून माह तक कार्य पूर्ण करने का दावा किया है।

कोलकाता की कम्पनि को दिया पाइप का ऑर्डर

इ़जरायल की कम्पनि जिस वितरण पाइप की आपूर्ति को लेकर विवादों में आई है, उसकी आपूर्ति के लिए कोलकाता में ऑर्डर लगा दिया गया है। प्रोजेक्ट मैनेजर ने बताया कि जल्द पाइप की आपूर्ति हो जाएगी, जिसके बाद ते़जी से काम करा दिया जाएगा। उधर, कम्पनि का दावा है कि अभी स्टॉक में 9 किलोमीटर पाइप रखा हुआ है।

फोटो हाफ कॉलम

:::

इन्होंने कहा

'कम्पनि द्वारा महानगर पेयजल योजना पर काम लगातार किया जा रहा है। 30 एंजिनियर व 140 श्रमिक काम कर रहे हैं। कोरोना महामारी के कारण पाइप लाइन आपूर्ति में दिक्कत आई थी, लेकिन अब ऑर्डर लगा दिया गया है। जल निगम से 6 माह का ऐक्सटेंशन माँगा गया है, जिस पर लगभग स्वीकृति हो गई है। कम्पनि द्वारा जून माह तक लगभग सभी कार्य पूर्ण कर लिए जाएंगे।'

0 राजीव कुमार

प्रोजेक्ट मैनेजर, तहल

फाइल : राजेश शर्मा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.