कोहरे की तनी रही चादर, सूरज की किरणें रहीं निस्तेज

कोहरे की तनी रही चादर, सूरज की किरणें रहीं निस्तेज

जागरण संवाददाता जौनपुर मौसम में लगातार परिवर्तन हो रहा है। आसमान में जहां छिटपुट बाद

Publish Date:Fri, 04 Dec 2020 06:21 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, जौनपुर : मौसम में लगातार परिवर्तन हो रहा है। आसमान में जहां छिटपुट बादलों का डेरा है वहीं शुक्रवार को दोपहर तक कोहरे की चादर तनी रही। ऐसे में सूरज की किरणें निस्तेज रहीं। पश्चिम से चलने वाली बर्फीली हवाओं के कारण सिहरन महसूस की गई। तापमान में उतार-चढ़ाव के चलते फसलों में रोग लगने का खतरा बढ़ गया है।

मौसम में लगातार उतार-चढ़ाव आ रहा है। गुरुवार की रात से शुरू हुआ कोहरे का कहर दूसरे दिन दोपहर तक बरपता रहा। कोहरे के कारण आवागमन में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। ²श्यता कम होने के चलते चालक वाहनों को धीमी गति से लेकर चले। तापमान में गिरावट व कोहरे के कारण अगेती आलू, मटर, अरहर की फसल में रोग लगने का खतरा बढ़ गया है। दूसरी तरफ ठंड में गेहूं की बोआई के लिए पलेवा और सिचाई करने परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मौसम वैज्ञानिक डा. पंकज जायसवाल ने बताया कि तीन दिन से हवा का रुख बदला है। इस वजह से अधिकतम और न्यूनतम तापमान में कमी दर्ज की जा रही है। उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी के कारण शीतलहर की संभावना बढ़ गई है। सुबह छह बजे तापमान 13 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहा। दक्षिण से पश्चिम की ओर हवाएं चार किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलीं। शाम चार बजे के बाद सूरज की किरणें मद्धिम पड़ने के साथ ही तापमान के गिरने का क्रम शुरू हो जा रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.