चुनाव प्रचार थमा, आज रवाना होंगी पोलिग पार्टियां

चुनाव प्रचार थमा, आज रवाना होंगी पोलिग पार्टियां

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव प्रसार का शोर मतदान से 48 घंटे पहले मंगलवार की शाम छह बजे थम गया।

JagranTue, 13 Apr 2021 06:13 PM (IST)

जागरण संवाददाता, जौनपुर : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव प्रसार का शोर मतदान से 48 घंटे पहले मंगलवार की शाम छह बजे थम गया। अब 15 अप्रैल गुरुवार को जिला, क्षेत्र व ग्राम पंचायत सदस्यों के साथ ही प्रधान पद के लिए सुबह सात से शाम छह बजे तक मतदान होगा। इसके लिए बनाए गए कुल 5106 मतदेय स्थलों के लिए पोलिग पार्टियों (मतदान कर्मियों) की रवानगी सभी ब्लाकों से बुधवार को सुबह सात बजे से होगी। मतदान कर्मियों की रवानगी के लिए सभी ब्लाकों पर कोविड हेल्प डेस्क का गठन किया गया है। पोलिग पार्टियां देरशाम तक सभी मतदेयस्थलों पर पहुंचकर उसे अपने कब्जे में लें लेंगी।

जिले में 15 अप्रैल को मतदान होना है। इसमें 36 लाख, 29 हजार, 704 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। जनपद के पांच हजार 106 बूथों के लिए कुल इतनी ही पोलिग पार्टियों की रवानगी होगी। इसमें पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय, तृतीय होंगे। इसके लिए कुल 20 हजार 416 मतदान कर्मी लगाए गए हैं। वहीं 20 फीसद रिजर्व में रखे गए हैं। पोलिग पार्टियों की रवानगी के समय ब्लाक पर उन्हें मतदान के लिए उपयोग में आने वाली आवश्यक सामग्री दी जाएगी। इसमें मतपत्र, मतपेटिका, अभिलेख आदि रहेगा। चुनाव के सकुशल संचालन के लिए संवेदनशील, अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों को चिन्हित किया गया है। इन पर जिला प्रशासन की विशेष नजर रहेगी। मतदान के लिए जिले के 1740 ग्राम पंचायतों को 214 सेक्टर, 37 जोन व छह सुपर जोन में विकसित किया गया है। सभी सेक्टर, जोनल व सुपर जोनल मजिस्ट्रेट लगातार भ्रमणशील रहकर मतदान की कार्रवाई पर कड़ी निगाह रखेंगे। साथ ही पुलिस अधिकारियों की भी तैनाती रहेगी। इसके साथ ही 230 अतिसंवेदनशील व संवदेनशील बूथों पर वीडियोग्राफी कराई जाएगी। इसके साथ ही प्रत्याशियों व उनके समर्थकों की हर गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जाएगी।

तापमान अधिक होने पर अंतिम में कराया जाएगा मतदान

बूथों पर मतदान को पहुंचने वाले मतदाताओं का कोविड हेल्प डेस्क पर पहले तापमान चेक किया जाएगा। शरीर का तापमान अधिक होने पर उन्हें बैठा दिया जाएगा और अंतिम आधे घंटे में पीपीई किट पहनाकर मतदान कराया जाएगा।

17 विकल्प से दे सकेंगे वोट

जिले के 5106 मतदेय स्थल व 1708 मतदान केंद्रों पर मतदान के लिए पहचान पत्र के रूप में राज्य निर्वाचन आयोग की तरफ से 17 विकल्प दिए गए हैं। इसमें मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविग लाइसेंस, आयकर पहचान पत्र, कार्यालयों के कर्मियों को फोटोयुक्त पहचान पत्र, बैंक व पोस्ट आफिस का फोटोयुक्त पासबुक, फोटोयुक्त संपत्ति संबंधी मूल अभिलेख, अद्यतन फोटोयुक्त किसान बही, फोटोयुक्त पेंशन अभिलेख यथा भूतपूर्व सैनिक पेंशन बुक, पेंशन भुगतान आदेश, वृद्धावस्था पेंशन आदि, फोटोयुक्त स्वतंत्रता संग्राम सेनानी प्रमाण पत्र, फोटोयुक्त शस्त्र लाइसेंस, फोटोयुक्त शारीरिक रूप से अशक्त होने का प्रमाण पत्र, मनरेगा जाबकार्ड, स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, सांसद, विधायक, एमएलसी का पहचान पत्र, राशन कार्ड।

एक नजर में स्थिति..

ग्राम पंचायतों की संख्या: 1740

मतदान केंद्रों की संख्या: 1708मतदेय स्थलों की संख्या: 5106

संवेदनशील बूथों की संख्या: 523

अतिसंवेदनशील बूथों की संख्या: 230

ग्राम पंचायत सदस्य के पद: 21729

क्षेत्र पंचायत सदस्य के पद: 2027

जिला पंचायत सदस्य के पद: 83

लगाए गए कुल पुलिस कर्मी की संख्या: 12 हजार 840

बोले जिम्मेदार..

मतदान की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। हर ब्लाक से बुधवार को पोलिग पार्टियों की रवानगी होगी। 15 अप्रैल को मतदान कराया जाएगा। कोरोना को देखते हुए पोलिग पार्टियों की रवानगी के लिए ब्लाकों व मतदान के समय बूथों पर कोविड हेल्प डेस्क का गठन किया गया है। इसके अतिरिक्त मतदाताओं का हाथ सैनिटाइज कराकर मतदान कराया जाएगा।

-मनीष कुमार वर्मा, जिला निर्वाचन अधिकारी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.