खत्म हुआ कार्यकाल, परवान नहीं चढ़ीं विकास की योजनाएं

खत्म हुआ कार्यकाल, परवान नहीं चढ़ीं विकास की योजनाएं

जौनपुर विकास खंड रामनगर के ग्राम पंचायत कसियांव में पांच साल में तमाम सर

JagranWed, 03 Mar 2021 11:54 PM (IST)

जागरण संवाददाता, जौनपुर : विकास खंड रामनगर के ग्राम पंचायत कसियांव में पांच साल में तमाम सरकारी योजनाएं चलीं। इनके माध्यम से गांव कई काम हुए, लेकिन अभी भी गांव में काफी कुछ काम करना बाकी रह गया। गांव में कुल 65 प्रधानमंत्री आवास, 300 शौचालय, लगभग एक किलोमीटर खड़ंजा कार्य कराया गया तो 70 स्ट्रीट लाइट भी लगवाई गई। अधिकांश पात्र आवास, वृद्धा-विधवा व दिव्यांग पेंशन से वंचित रह गए। कसियांव में तीन राजस्व गांव सम्मिलित हैं। इनमें कसियाव, जीरकपुर और जलालुद्दीनपुर है। गांव में जीरकपुर बस्ती में आज तक खड़ंजा का कार्य नहीं कराया जा सका है। बारिश के पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं हो सकी है। बरसात के दिनों में पानी की निकासी न होने से अधिकांश बस्तियों में पानी भर जाता है। पैसे के अभाव में बन रहा सार्वजनिक सुलभ शौचालय अधूरा पड़ा हुआ है। पंचायत भवन बना है, लेकिन मरम्मत के अभाव में बेकार पड़ा है। गांव में बच्चों को खेलने के लिए जिम व खेल का मैदान नहीं है। बोले ग्रामीण..

गांव की बुधना पत्नी ललई ने बताया कि वह विधवा है। दर्जनों बार प्रधान व ग्राम पंचायत अधिकारी से मिलकर विधवा पेंशन के लिए गुहार लगाई, लेकिन उन्हें पेंशन नहीं मिली। वहीं सुनीता पत्नी गोविद गौतम प्रधानमंत्री आवास के लिए काफी प्रयास की, लेकिन इन्हें आज तक आवास की सुविधा नहीं मिल सकी। गांव की चौहद्दी..

पूरब में रामनगर, पश्चिम में जवंसीपुर, उत्तर में काजीपुर दरगाह, दक्षिण में भरहूपुर। मत्था

3000-गांव की कुल आबादी

1800-गांव में कुल मतदाता पांच साल में मनरेगा के तहत तालाब की खोदाई, एक किलोमीटर खड़ंजा, 300 शौचालय, 70 स्ट्रीट लाइट, प्राथमिक विद्यालयों की चारदीवारी सहित अनेक विकास कार्य कराए। धन के अभाव में कुछ कार्य अधूरे रह गए।

-मनोज कुमार गौतम, निवर्तमान ग्राम प्रधान।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.