- जिला बदर की गोली मारकर हत्या

संवाद सहयोगी जालौन रुपयों के लेन देन को लेकर हुए विवाद में दोस्त ने ही कोतवाली से 700 मीटर दूर मुख्य सड़क पर एक युवक को गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल हुए युवक को जिला अस्पताल से कानपुर रेफर किया गया जहां उसकी मौत हो गई। घटना के बाद नगर में सांप्रदायिक तनाव की आशंका से चप्पे चप्पे पर पुलिस बल व पीएसी तैनात कर दी गई। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है।

JagranSat, 19 Jun 2021 06:36 PM (IST)
- जिला बदर की गोली मारकर हत्या

संवाद सहयोगी, जालौन : रुपयों के लेन देन को लेकर हुए विवाद में दोस्त ने ही कोतवाली से 700 मीटर दूर मुख्य सड़क पर एक युवक को गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल हुए युवक को जिला अस्पताल से कानपुर रेफर किया गया, जहां उसकी मौत हो गई। घटना के बाद नगर में सांप्रदायिक तनाव की आशंका से चप्पे चप्पे पर पुलिस बल व पीएसी तैनात कर दी गई। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है।

कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला रापटगंज निवासी वैश्विक मानवाधिकार एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष नौशाद बरकाती का रावतान मोहल्ला निवासी जितेंद्र कुमार के साथ उठना बैठना था। दोनों के बीच गहरी दोस्ती थी। कुछ समय पूर्व उनके बीच 23 हजार रुपये का लेन देन हुआ था। इसी लेन देन को लेकर कुछ समय पूर्व से दोनों के बीच अनबन चल रही थी। शनिवार की रात करीब 10 बजे जितेंद्र की नौशाद से मोबाइल पर रुपयों के लेन देन को लेकर बात हुई। जिसमें दोनों के बीच बहस के साथ ही गाली, गलौज भी हो गई थी। मोहल्ले के लोगों के अनुसार रात करीब साढ़े 10 बजे एक युवक नौशाद के घर आया और बताया कि जितेंद्र उसे बुला रहे हैं। जिसके बाद नौशाद कोतवाली से लगभग 700 मीटर दूरी पर स्थित गल्ला मंडी के सामने उनके बताए स्थान पर पहुंच गया। पीछे से मोहल्ले के ही कुछ युवक और भी पहुंच गए। मौके पर एक दर्जन से अधिक युवक एकत्रित हो गए। दोनों पक्षों के बीच वाद विवाद और गाली, गलौज होने लगा। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक झगड़े के बीच जितेंद्र पक्ष के एक युवक ने तमंचे से 6 राउंड फायरिग भी की। जिससे वहां मौजूद सभी लोगों में दहशत फैल गई। इसी बीच जितेंद्र ने नौशाद के सिर में तमंचे से गोली मार दी। नजदीक से चली गोली के सिर में लगते ही नौशाद वहीं गिर गए और जितेंद्र समेत अन्य सभी युवक मौके से भाग गए। नौशाद को जमीन पर गिरा सिर से निकल रहे खून को देखकर नौशाद का सबसे छोटा भाई शहबाज व कैफी समेत एक अन्य युवक ने उसे सीएचसी पहुंचाया। मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार घटना के लगभग आधा घंटे बाद कोतवाली पुलिस अस्पताल पहुंची। जहां सीओ विजय आनंद व कोतवाल उदयभान गौतम ने घटना के संबंध में परिजनों से जानकारी ली। जिसके बाद उन्होंने उच्चाधिकारियों को मामले की जानकारी दी। सूचना मिलते ही रात में एएसपी राकेश सिंह भी मौके पर पहुंच गए। मामला दो समुदायों के बीच का होने के चलते उन्होंने माधौगढ़ सीओ शाहिदा नसरीन, समेत आसपास थानों की पुलिस फोर्स व पीएसी बल को बुलाकर नगर में तैनात करा दिया। उधर, सिर में गोली लगने से गंभीर रूप से घायल नौशाद को डॉक्टरों ने कानपुर रेफर कर दिया। जहां शनिवार की दोपहर लगभग 3 बजे रीजेंसी हॉस्पिटल में उपचार के दौरान नौशाद की मृत्यु हो गई। कानपुर रेफर के दौरान परिवार के सभी सदस्य नौशाद के साथ ही चले गए तो घर पर कोई भी मौजूद नहीं है। जिसके चलते घटना के संबंध में अभी तक कोतवाली में कोई तहरीर नहीं दी है। कोतवाली उदयभान गौतम तहरीर मिलते ही मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा। जल्द आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.