तालाब खुदाई का एडीएम ने किया निरीक्षण

संवाद सूत्र कदौरा नगर पंचायत के लिए सदर तालाब सिर दर्द बन गया है। बीती रात एनजीटी अदालत के

JagranPublish:Thu, 02 Dec 2021 11:54 PM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 11:54 PM (IST)
तालाब खुदाई का एडीएम ने किया निरीक्षण
तालाब खुदाई का एडीएम ने किया निरीक्षण

संवाद सूत्र, कदौरा : नगर पंचायत के लिए सदर तालाब सिर दर्द बन गया है। बीती रात एनजीटी अदालत के सख्त आदेश के बाद रात 11 बजे आनन फानन में प्रशासन ने तालाब की खुदाई का कार्य शुरू करवा दिया। जिसका निरीक्षण करने के लिए गुरुवार सुबह टीम सहित एडीएम पूनम निगम पहुंचीं।

नगर क्षेत्र में स्थित सदर तालाब की खुदाई लंबे समय से अधर में लटकी हुई थी। जबकि एनजीटी अदालत के आदेश के बावजूद भी खुदाई का कार्य शुरू नहीं हो पा रहा था। बुधवार की रात में ही

प्रशासन ने एनजीटी के सख्त आदेश के बाद खुदाई कार्य शुरू करवा दिया है। खुदाई कार्य में तीन से चार मशीनों को लगाकर कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। गुरुवार को एडीएम पूनम निगम ने निरीक्षण करते हुए कार्य कर रहे लोगों को सख्त दिशा निर्देश दिए। उन्होंने सबसे पहले पूरे तालाब का निरीक्षण किया उसके बाद ईओ सुनील कुमार सिंह के साथ बातचीत कर उनको जल्द कार्य पूर्ण करवाने के निर्देश दिए। खुदाई कार्य के पूर्ण होने के बाद उसमें तुरंत साफ पानी भरकर जो सौंदर्यीकरण का कार्य बकाया रह गया है उसे भी जल्द पूर्ण करवाने के लिए कहा। इस दौरान एसडीएम केके सिंह, तहसीलदार बलराम गुप्ता, ईओ सुनील कुमार सिंह, कानूनगो व लेखपाल सहित पंचायत कर्मी मौजूद रहे। दो साल से स्नान गृह का नहीं खोला गया ताला संवाद सहयोगी, माधौगढ़ : कस्बा के रामपुरा स्टैंड पर स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत सामुदायिक शौचालय बनाया गया था जिसमें स्नान गृह भी बनाया गया लेकिन स्नान करने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कस्बा के रामपुरा स्टैंड पर नगर पंचायत द्वारा 2019 में 5 लाख रुपये की लागत से महिला पुरुषों के लिए चार सीटर सामुदायिक शौचालय बनाया गया था। जिसमें स्नान करने के लिए भी स्नान गृह बनाया गया था लेकिन जब से यह बना है तब से लेकर आज तक स्नान गृह में ताला लगा हुआ है। दुकानदारों का कहना है कि दूर दराज से आने वाले लोगों को स्नान करने के लिए परेशानी का सामना करना पड़ता है। जब कोई व्यक्ति शौचालय के लिए जाता है तो फिर स्नान नहीं कर सकता है क्योंकि उसमें नगर पंचायत द्वारा ताला लगा हुआ है। सुरेश, कल्लू, गुड्डू, संतू का कहना है कि सामुदायिक शौचालय में बना स्नान गृह में हमेशा ताला लगा रहता है जिससे दुकानदारों या फिर बाहर से आने वाले लोगों को स्नान करने के लिए परेशान होना पड़ता है। नगर पंचायत अध्यक्ष राजकिशोर गुप्ता का कहना है कि स्नान गृह में लोग गंदगी कर देते हैं जिससे स्नान गृह में ताला लगा दिया गया है। अगर किसी के वहां पर कोई फंगसन होता है तो ताला खोल दिया जाता है।