कुरसंडा के ग्रामीणों को चाहिए मीठा पानी

कुरसंडा के ग्रामीणों को चाहिए मीठा पानी

सादाबाद क्षेत्र का गांव कुरसंडा आजादी के रणबांकुरे बाबा देवकरण की यादों को आज तक संजोये हुए है।

JagranThu, 04 Mar 2021 06:56 AM (IST)

संसू, हाथरस : सादाबाद क्षेत्र का गांव कुरसंडा आजादी के रणबांकुरे बाबा देवकरण की यादों को आज तक संजोये हुए है। वहीं उनके वंशज सहकारिता के प्रणेता, आकाशवाणी के संस्थापक तथा चार बार सांसद रहने वाले चौधरी स्वर्गीय दिगंबर सिंह का पैतृक गांव व महामाई अटाकी माता के गरिमामई दरबार का स्थल आज भी मूलभूत समस्याओं से जूझ रहा है। इस ग्राम पंचायत के 12 गांव आज भी मीठे पानी को तरस रहे हैं। बड़ी पंचायत में स्वास्थ्य को लेकर यहां 100 बेड का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बन चुका है, परंतु आज तक आजादी के दीवाने बाबा देवकरण सिंह कथा जनपद मथुरा में सहकारिता के जनक रहे पूर्व सांसद चौधरी दिगंबर सिंह की प्रतिमा स्थापित नहीं हो सकी है।

खारे पानी से ग्रसित गांव

नगला मिठास, नगला ध्यान, नगला अनगदा, नगला काठ, नगला थलूगढ़ी, लालगढ़ी, मोतीगढी, नगला बलवंत, नगला दयाल, नगला सिधारी, नगला मोहन, नगला गिरधारी, गढ़ी आशा, मोहल्ला थोक, मोहल्ला मान, मोहल्ला चंदर।

आंकड़े क्षेत्रफल-3000 हेक्टेयर

जनसंख्या-25000

मतदाता- 14258

पुरुष- 8705

महिला- 5553 ग्राम पंचायत कुरसंडा जिले की दूसरे नंबर की बड़ी पंचायतों में आती है। पंचायत बड़ी होने के कारण सभी को संतुष्ट करना असंभव है। हालांकि ग्राम पंचायत में काफी कुछ काम हुए हैं। कुछ एक ऐसे काम भी हैं, जिनका होना बहुत जरूरी है।

-छीतर सिंह, पूर्व हवलदार नगला दयाल

हमारी ग्राम पंचायत बड़ी होने के कारण कार्यो को पूर्ण करना असंभव सा है। ग्राम पंचायत जिले की दूसरी बड़ी पंचायत है। हमारी पंचायत में युवाओं को तैयारियों के लिए खेलकूद के मैदान की व्यवस्था बहुत ही अनिवार्य है।

- चौ. साहिबराम, कुरसंडा

हमारी ग्राम पंचायत में विकास कार्यो के चलते कुछ अनियमितताएं भी हैं, जिनकी तरफ कोई भी ध्यान नहीं देता। बड़ी पंचायत होने के कारण सफाई का कार्य बाधित है। यहां केवल एक ही सफाई कर्मचारी है और क्षेत्र बहुत बड़ा है, जिससे क्षेत्र में सफाई का कार्य सही ढंग से नहीं हो पाता।

- चौ. रामवीर सिंह, अनगदा गांव में पांच वर्ष के कार्यकाल में जल निकासी, पोखरों की सफाई, बरसात मे पोखरे ओवरफ्लो होकर सड़कों पर गंदा पानी आ जाता है। गोशाला, व्यायामशाला, खेलकूद का मैदान, लाइब्रेरी आदि को ध्यान में रखते हुए कार्य नहीं हुए हैं तथा ग्राम पंचायत में खारे पानी की विकट समस्या है।

- चौ. रूपेंद्र सिंह, नंबरदार (चुनाव में दूसरे नंबर पर रहे) मैंने अपने 60 माह के कार्यकाल में बिना किसी भेदभाव के कार्य कराए हैं, जो भी ग्रामीण मेरे पास कार्य लेकर आए। उन्हें सभी प्रकार से संतुष्ट किया है और उनके बताए कामों को प्राथमिकता दी गई है। पंचायत क्षेत्र में पारदर्शिता के साथ कराए गए कार्यो के साथ ही ग्राम पंचायत कुरसंडा में इंटरलॉकिग खरंजा, पीने के पानी के लिए नल लगवाए। सार्वजनिक शौचालय, पंचायत घर का सुंदरीकरण कराया।

- मधु चौधरी, निवर्तमान ग्राम प्रधान

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.