बुखार से छात्र सहित तीन लोगों की मौत

बुखार और डेंगू का प्रकोप जिले में बढ़ता ही जा रहा है। घरों में लोग परेशान हैं।

JagranMon, 01 Nov 2021 12:19 AM (IST)
बुखार से छात्र सहित तीन लोगों की मौत

जागरण टीम, हाथरस: बुखार और डेंगू का प्रकोप जिले में बढ़ता ही जा रहा है। घरों में लोग बीमार पड़े हुए हैं। वहीं, पैथोलाजी लैब व अस्पतालों में मरीजों की भरमार है। पिछले 24 घंटों में एक छात्र व व्यक्ति की बुखार के कारण मौत हो गई। वहीं, सहपऊ के गांव नगला सेवा में एक परिवार के इकलौते पुत्र की बुखार से मौत हो जाने से परिवार में हाहाकार मचा हुआ है।

गांव जोगिया निवासी 14 वर्षीय जयकुमार को पिछले कई दिनों से बुखार आ रहा था। स्वजन के द्वारा जय कुमार का उपचार आगरा के एक निजी अस्पताल में कराया गया। पैसों के अभाव में स्वजन निजी अस्पताल से छात्र को उपचार कराने के लिए अलीगढ़ के दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल ले गए। जहां शनिवार की रात को उपचार के दौरान छात्र की मौत हो गई। छात्र रमनपुर के एक निजी स्कूल में पढ़ता था। करीब एक माह पूर्व छात्र की बड़ी बहन 22 वर्षीय बुलबुल की भी बुखार से मौत हो गई थी। एक माह में परिवार के दो बच्चों की मौत हो जाने से स्वजन सदमे में हैं। त्योहार से पूर्व बहन व भाई की मौत हो जाने से परिवार में हाहाकार मचा हुआ है। शहर के मोहल्ला नाई का नगला निवासी 52 वर्षीय मुकेश कुमार को पिछले कई दिनों से बुखार आ रहा था। परिजनों ने उसका उपचार भी कराया, लेकिन हालत में कोई सुधार नहीं हुआ। रविवार की सुबह उसकी हालत ज्यादा खराब हो गई। यह देख स्वजन घबरा गए और उसे आनन-फानन जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां पर डाक्टर ने व्यक्ति को मृत घोषित कर दिया।

इकलौते पुत्र की हुई मौत

सहपऊ के गांव नगला सेवा निवासी एक 16 वर्षीय किशोर की बुखार से मौत हो गई। पांच दिन पूर्व उसके स्वजन अपने बेटे को लेकर इलाज के लिए कई अस्पतालों में भटकते रहे। हालत अधिक गंभीर होने पर शुक्रवार की शाम को उसके स्वजन उसे इलाज के लिए एक निजी अस्पताल नोएडा में ले गए। जहां शनिवार की सुबह इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। गांव नगला सेवा निवासी बिक्रम सिंह के 16 वर्षीय इकलौते पुत्र कुलदीप सिंह दो बहनों के बीच अकेला भाई था। कुलदीप की नोएडा के एक निजी अस्पताल में हुई मौत की खबर सुनते ही गांव में शोक की लहर दौड़ गई।

लगातार लगाए जा रहे शिविर

बुखार और डेंगू की आशंका से लगातार लोगों की मौत होने से स्वास्थ्य विभाग परेशान है। गांवों में शिविर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लगाए जा रहे हैं। शिविर लगातार स्वास्थ्य विभाग की टीमों के द्वारा दवाई के वितरण के अलावा लोगों की मलेरिया और डेंगू का सैंपल लिए जा रहे हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.