पत्नी की हत्या में आजीवन कारावास

पत्नी का गला घोंटकर फरार हो गया था आरोपित पति कोर्ट ने अभियुक्त पर 10 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया। जासं हाथरस पत्नी की हत्या के अभियुक्त को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश चतुर्थ पारुल वर्मा ने आज

JagranPublish:Fri, 03 Dec 2021 04:38 AM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 04:38 AM (IST)
पत्नी की हत्या में आजीवन कारावास
पत्नी की हत्या में आजीवन कारावास

जासं, हाथरस : पत्नी की हत्या के अभियुक्त को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश चतुर्थ पारुल वर्मा ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कोर्ट ने आरोपित पर 10 हजार रुपये अर्थदंड भी लगाया है।

अभियोजन पक्ष की ओर से सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता प्रतिभा राजपूत ने पैरवी की। उन्होंने बताया कि छह दिसंबर 2016 को गांव लौहर्रा, सासनी निवासी चोब सिंह ने मुकदमा दर्ज कराया था। रिपोर्ट में वादी ने कहा था कि उसने बहन चंद्रकला की शादी गांव महुआ की नगरिया, जिरौली, थाना सासनी निवासी शिवलाल से कराई थी। छह दिसंबर 2016 को बहन के ससुराल के एक व्यक्ति ने उसे फोन कर बताया कि चंद्रकला की उसके पति शिवलाल ने गला दबाकर हत्या कर दी है। इस सूचना पर जब वह महुआ की नगरिया पहुंचे तो बहन का शव चारपाई पर पड़ा हुआ था, जबकि आरोपित पति वहां से फरार था। पुलिस ने इस मामले में धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज किया था। जांच के बाद चार्जशीट न्यायालय में दाखिल की। एडीजे चतुर्थ के न्यायालय में इस मुकदमे की सुनवाई हुई। न्यायालय ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं को सुना। हत्यारोपित शिवलाल को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। 10 हजार रुपये अर्थदंड भी लगाया। अर्थदंड नहीं देने पर अभियुक्त को छह माह अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। विवाहिता की हत्या कर शव गायब करने का आरोप

संस, हाथरस : कोतवाली हाथरस जंक्शन के गांव छौंक की विवाहिता की हत्या कर शव गायब करने का आरोप लगाया गया है। गांव बघराया के लोग गुरुवार दोपहर को कोतवाली हाथरस जंक्शन पहुंचे। वहां चंद्रवीर सिंह का कहना था कि उन्होंने अपनी पुत्री भावना की शादी इसी साल दो मई को हाथरस जंक्शन के ही गांव छौंक निवासी मनीष से की थी। शादी के बाद से ही ससुराल पक्ष के लोग अतिरिक्त दहेज में मोटर साइकिल की मांग करने लगे। विवाहिता के साथ आए दिन मारपीट करने लगे। गुरुवार को गांव के एक व्यक्ति ने चंद्रवीर सिंह को सूचना दी कि उनकी पुत्री के साथ मारपीट की जा रही है। सूचना पर स्वजन जब बेटी कीससुराल पहुंचे तो वहां पुत्री नहीं मिली। पुत्री की अलमारी से 12 पेज का एक पत्र मिला जिसमें शादी के बाद से किए गए उत्पीड़न की बात लिखी है। तहरीर मिलने के बाद पुलिस अब विवाहिता की तलाश कर रही है।