हाथरस जंक्शन से दिल्ली के लिए पैसेंजर ट्रेन आज से

हाथरस जंक्शन से दिल्ली के लिए पैसेंजर ट्रेन आज से

किराया एक्सप्रेस ट्रेन का देना होगा बिना मॉस्क के नहीं मिलेगी एचएडी में पैसेंजर को एंट्री।

JagranMon, 01 Mar 2021 01:16 AM (IST)

जागरण संवाददाता, हाथरस : सोमवार की सुबह से हाथरस जंक्शन से दिल्ली के लिए एचएडी पैसेंजर ट्रेन दौड़ने लगेगी। इसके लिए रेलवे की ओर से सारे इंतजाम कर लिए गए हैं। दैनिक मुसाफिरों को टिकट खरीदने के लिए दो काउंटर खोले गए हैं। रविवार को टिकटघरों पर साफ-सफाई का काम चला।

एचएडी पैसेंजर ट्रेन में सफर के लिए यात्रियों को हाथरस जंक्शन स्टेशन पहुंचना होगा। सुबह छह बजकर दस मिनट पर हाथरस जंक्शन स्टेशन से एचएडी पैसेंजर ट्रेन रवाना होगी। रात को नौ बजकर बीस मिनट पर हाथरस जंक्शन पर आएगी।

हाथरस से दिल्ली के लिए गारमेंट्स, रबड़ी, सब्जी, पनीर के व्यापारी हर रोज सफर करते हैं। एचएडी के चलने से जिले के यात्रियों को राहत मिल सकेगी, हालांकि ट्रेनों की संख्या आने वाले दिनों में और बढ़ाई जा सकती है।

यह ट्रेन सुबह छह बजकर दस मिनट पर चलकर सुबह दस बजे नई दिल्ली पहुंचेगी। शाम पांच बजकर 55 मिनट पर दिल्ली से चलकर रात को नौ बजकर बीस मिनट पर हाथरस जंक्शन आएगी। बिना मास्क प्रवेश वर्जित रहेगा

पैसेंजर ट्रेन के संचालन को देखते हुए रेलवे अधिकारियों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी क्रम में हर मुसाफिर को बिना मॉस्क स्टेशन पर ही एंट्री नहीं मिलेगी। ट्रेन में भी मुसाफिरों को दो गज दूरी पर बिठाने का इंतजाम किया जाएगा। रविवार को हाथरस जंक्शन पर दो काउंटर खोलकर स्टाफ की ड्यूटी लगा दी गई है ताकि किसी तरह की दिक्कत मुसाफिरों को न हो सके। वर्जन ---

सोमवार को हाथरस जंक्शन से एचएडी पैसेंजर ट्रेन का संचालन शुरू हो जाएगा। संचालन से पहले ही तैयारियां कर ली गई हैं। दो टिकट काउंटर खोले गए हैं। बिना मॉस्क के ट्रेन में सफर करने की इजाजत नहीं होगी।

संजय शुक्ला, वरिष्ठ वाणिज्य निरीक्षक अलीगढ़

किला स्टेशन से फिर

से चालू हो एचएडी

संस, हाथरस : हाथरस किला से दिल्ली तक चलने वाली एचएडी (ईएमयू) ट्रेन का संचालन एक मार्च से हाथरस जंक्शन से शुरू होने पर क्षेत्रीय लोगों में नाराजगी भी है। हाथरस किला से चलती रही इस ट्रेन के बंद होने से जहां स्टेशन समाप्त हो जाएगा, वहीं लोगों को दिक्कतें भी होंगी। इसके लिए पालिकाध्यक्ष ने रेल मंत्री के नाम एसएस को ज्ञापन सौंपा। वहीं भाजपा शहराध्यक्ष ने भी मांग उठाई है।

पालिकाध्यक्ष इतवार को हाथरस जंक्शन रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। उन्होंने स्टेशन अधीक्षक (एसएस) को ज्ञापन देते हुए कहा कि कोविड-19 में लगे लॉकडाउन के चलते सभी ट्रेनों के साथ हाथरस किला से दिल्ली जंक्शन तक जाने वाले एचएडी (ईएमयू) ट्रेन का संचालन बंद कर दिया गया था। इस ट्रेन को सोमवार से हाथरस जंक्शन रेलवे स्टेशन से चलाया जा रहा है। किला स्टेशन से इस ट्रेन के न चलने से शहर व उसके आसपास के यात्रियों को इससे काफी दिक्कतें होंगी। रेलवे के इस निर्णय से आम जनता, व्यापारी, सामाजिक कार्यकर्ता व मजदूरों में आक्रोश है। रेलवे प्रशासन का यह कदम हाथरस किला स्टेशन को समाप्त करने की साजिश लग रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की नीतियां सबका साथ-सबका विकास वाली हैं। इस निर्णय से रेलवे अधिकारी सरकार को बदनाम कर रहे हैं। किला स्टेशन से ट्रेन का संचालन नहीं होने पर हाथरस में लोग आंदोलन करने लिए मजबूर होंगे। चेयरमैन ने फोन से डीआरएम इलाहाबाद से भी वार्ता की। इसमें अशोक अग्रवाल, मोहित शर्मा, दिनेश शर्मा, अशोक गोला, रामगोपाल दीक्षित मौजूद थे। भाजपा के शहर अध्यक्ष ने रेल

मंत्री पीयूष गोयल को भेजा पत्र

भाजपा के शहर अध्यक्ष शरद माहेश्वरी ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र भेजकर हाथरस किला स्टेशन से ही पैसेंजर ट्रेन चलाने की मांग की है। कहा है कि ब्रिटिश काल से हाथरस किला से जंक्शन के लिए चल रही ट्रेन को बंद करने का निर्णय उचित नहीं है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि दिल्ली से लोग सामान लाकर दो जून की रोटी कमाते थे। यह साधन भी बंद हो जाएगा। अब ईएमयू को हाथरस जंक्शन से चलाया जा रहा है, इसे हाथरस किला स्टेशन से चलाया जाना चाहिए। क्योंकि रात में जब गाड़ी लौटेगी तो हाथरस शहर के लिए जंक्शन से आने के लिए कोई साधन नहीं मिल पाता। इससे आम नागरिकों, बहन-बेटियों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। भाजपा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष कृष्ण मुरारी वाष्र्णेय ने कहा है कि ब्रिटिश शासन काल से कालका सुपर एक्सप्रेस का ठहराव हाथरस जंक्शन पर हुआ करता था मगर उसको भी बंद कर दिया गया है। वरिष्ठ नेता पूर्व जिला उपाध्यक्ष रामकुमार माहेश्वरी ने कहा गया है कि इज्जत नगर मंडल को आदेश जारी कर सभी लंबे रूट की गाड़ियों का स्टॉपेज हाथरस सिटी में भी किया जाए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.