बुखार से 11वीं के छात्र की मौत, दहशत

बुखार का प्रकोप तेजी के साथ बढ़ता ही जा रहा है। टीम दवा बांट रही है।

JagranSun, 05 Sep 2021 12:10 AM (IST)
बुखार से 11वीं के छात्र की मौत, दहशत

जागरण टीम, हाथरस: बुखार का प्रकोप तेजी के साथ बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार को सरस्वती इंटर कालेज में कक्षा 11 में पढ़ने वाले छात्र की बुखार से आगरा में मौत हो गई। शनिवार को कालेज में शोकावकाश घोषित किया गया। बुखार से मरने वाले मरीजों का आंकड़ा बढ़कर अब पांच हो गया है। पुरदिलनगर व कुरसंडा में बुखार का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा। शनिवार को दोनों जगहों पर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा शिविर लगाकर दवाइयों का वितरण कराया गया। साथ ही फागिग दोनों ही जगह पर कराई गई।

गांव परसारा निवासी योगेंद्र कुमार सरस्वती इंटर कालेज में कक्षा 11वीं का छात्र था। पिछले कई दिनों से बुखार से छात्र पीड़ित था। गुरुवार की रात को स्वजन छात्र को उपचार के लिए जिला अस्पताल लेकर आए। जहां हालत बिगड़ने पर स्वजन छात्र को उपचार के लिए आगरा के निजी अस्पताल में ले गए, जहां उपचार के दौरान शुक्रवार को छात्र की मौत हो गई। सरस्वती इंटर कालेज के प्रधानाचार्य सत्यभान गुप्ता का कहना है कि बुखार के चलते छात्र की मौत हो गई। शनिवार को कालेज में शोकावकाश घोषित किया गया।

पुरदिलनगर में हालात खराब

पुरदिल नगर क्षेत्र के ग्राम जरेरा में फौजी की पत्नी की बुखार से शुक्रवार को हुई मौत की सूचना मिलने पर अफसरों में खलबली मच गई। सीएमओ के निर्देश पर स्वास्थ्य कर्मचारी मलेरिया एवं डेंगू से संबंधित चिकित्सकों की टीम ने ग्राम जरेरा में डोर टू डोर निरीक्षण किया। मरीजों को दवा का वितरण भी पंचायत घर पर शिविर लगाकर किया गया। डा. आर के वर्मा के नेतृत्व में चिकित्सकों की टीम ने ग्राम जरेरा में डोर टू डोर घरों में चारपाई पर पड़े मरीजों को देखा। डा. राहुल राजपूत की अध्यक्षता में पंचायत घर पर आयोजित शिविर में दवाओं का वितरण किया गया। सोरों गेट में शिविर का आयोजन किया गया। जहां चार दर्जन से अधिक लोगों को दवा का वितरण किया गया। अधिशासी अधिकारी रमा दुबे ने बुखार की रोकथाम के लिए कई मोहल्लों का निरीक्षण कर एंटी लार्वा दवा का छिड़काव कराया।

कुरसंडा में बढ़ रहा मरीजों का आंकड़ा

सादाबाद के कुरसंडा में बुखार जानलेवा होता जा रहा है। रोजाना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, दर्जनों मरीज आगरा खंदौली तथा हाथरस के अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं। शनिवार को मलेरिया, सीबीजी तथा डेंगू के जांच के लिए नमूने लिए। वहीं, 140 बुखार पीड़ित मरीजों को दवा का वितरण किया। हाथरस से आई टीम द्वारा गांव में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव किया गया। गांव का नवीन कुमार उम्र 18 वर्ष वेदांता हास्पिटल में भर्ती है। बीना देवी उम्र 27 वर्ष और डेंगू की आंशका के चलते आगरा के अस्पताल में भर्ती कराया गया। भूरी देवी का गांव में उपचार चल रहा है। एसीएमओ डा. संतोष कुमार, डा. पवन कुमार, डा. प्रेमपाल शर्मा की टीम गांव पहुंची। टीम के द्वारा मरीजों का चिकित्सीय परीक्षण करते हुए दवा का वितरण किया। वहीं, रक्त पट्टिका बनाकर सैंपल लिए गए, जिनकी जांच रिपोर्ट आने पर उनका प्रभावी उपचार किया जाएगा।

गांवों में चलाया गया स्वच्छता अभियान

शनिवार को सासनी विकास खंड की समस्त पंचायतों में स्वच्छता अभियान चलाया गया। पंचायत में तैनात सफाई कर्मचारी द्वारा प्रत्येक ग्राम पंचायत में नालियों की सफाई कर कीचड़ को बाहर निकाला गया। जलभराव रोकने के लिए घरों की नालियों का पानी सुचारू किया गया। सफाई कर्मचारियों के साथ स्थानीय मजदूरों के माध्यम से नालियों के आसपास घास फूंस एवं झाड़ियों की कटाई की गई। जलभराव एवं मच्छरों से मुक्ति पाने के लिए नियंत्रण पाने के लिए विशेष अभियान चलाया गया है, जो 16 सितंबर तक निरंतर जारी रहेगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.