सिकंदराराऊ में 100 बेड का बनाया एल-टू हॉस्पिटल

सिकंदराराऊ में 100 बेड का बनाया एल-टू हॉस्पिटल

आज से शुरू होगा ऑक्सीजन व अन्य सेवाएं उपलब्ध रहेंगी इसमें चार वेंटीलेटर होंगे पिछली साल एल वन का दर्जा मिला था।

JagranMon, 19 Apr 2021 05:22 AM (IST)

संसू : हाथरस : सिकंदराराऊ में अलीगढ़ रोड स्थित जेपी हॉस्पिटल को स्वास्थ्य विभाग ने एल टू हॉस्पिटल बनाया है। अब कोरोना संक्रमित मरीजों का यहां उपचार हो सकेगा। इस एल टू हॉस्पिटल में चार वेंटीलेटर व 100 बेड होंगे। पिछले वर्ष इस हॉस्पिटल को एल वन का दर्जा दिया गया था, जिसे इस बार अपग्रेड कर एल टू हॉस्पिटल के रूप में स्थापित किया जा रहा है। हॉस्पिटल सोमवार से शुरू हो होगा। इसमें ऑक्सीजन व अन्य सभी सेवाएं कोरोना संक्रमितों को दी जाएंगी।

रविवार को अपर जिलाधिकारी जेपी सिंह, उपजिलाधिकारी मनोज कुमार सिंह व एसीएमओ डॉ. बिजेंद्र सिंह ने जेपी हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियों ने मौके पर मिलीं खामियों को तत्काल दूर करने के अधीनस्थों को दिशा निर्देश दिए। अपर जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। कोरोना संक्रमित को उचित उपचार मिल सके, उसके लिए जेपी हॉस्पिटल को एल टू हॉस्पिटल बनाया गया है। यहां मरीजों के लिए ऑक्सीजन, वेंटीलेटर की सुविधाएं दी जाएंगी। सोमवार से डॉक्टर व मेडिकल स्टाफ की तैनाती हो जाएगी। इस मौके पर चिकित्साधीक्षक डॉ. रजनेश कुमार व हॉस्पिटल संचालक विपिन वाष्र्णेय मौजूद थे।

एबीजी हास्पिटल में भर्ती

हो सकेंगे कोरोना मरीज

संस, हाथरस : कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए अब स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त किया जा रहा है। अपने निजी खर्चे पर सासनी के बरसै स्थित एबीजी हास्पिटल में कोविड मरीज इलाज करा सकेंगे। टीबी अस्पताल में बने कोविड एल-2 अस्पताल के अलावा कोरोना के मरीज एबीजी अस्पताल सासनी में भी भर्ती हो सकेंगे। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग कोरोना से निपटने के लिए अन्य तैयारियों में भी जुट गया है।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर काफी खतरनाक है। प्रदेश के हर जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है, जिससे हाथरस जिला भी अछूता नहीं है। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 90 हो गया है। प्रदेश के कई जिले तो ऐसे हैं जहां पर मरीजों को अस्पतालों में बेड नहीं मिल पा रहे हैं, अपने जनपद में ऐसी स्थिति पैदा न हो, इसे लेकर शासन से आए फरमान के बाद स्वास्थ्य विभाग ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है। इसके तहत एबीजी अस्पताल सासनी में 50 बेड की व्यवस्था की गई है, जबकि टीबी अस्पताल परिसर में बने कोविड अस्पताल में 30 बेड की व्यवस्था है। ऐसे में कोरोना से बचाव व लोगों को सावधान किया जा रहा है। इसे लेकर जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग व पुलिस प्रशासन द्वारा लोगों को कोरोना की गाइड लाइन का पालन करने की सलाह भी दी जा रही है। इनकी सुनो

एबीजी हास्पिटल में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए 50 बेड की व्यवस्था कराई गई है। हास्पिटल में कोरोना संक्रमित मरीज अपने निजी खर्चें पर इलाज करा सकते हैं।

डा. ब्रजेश राठौर, सीएमओ, हाथरस।

कोविड-19 को लेकर प्रशासन ने किया मंथन

तगड़ी तैयारी

सेंटर पर शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए निर्धारित स्थानों पर गोले बनाएं

सर्विलांस टीम की सक्रियता बढ़ाते हुए अधिक से अधिक लोगों की सैंपलिग हो जासं, हाथरस : लगातार बढ़ रहे (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव के ²ष्टिगत बैठक करते हुए जिलाधिकारी रमेश रंजन ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ मंथन करने के साथ दिशा- निर्देश भी दिए।

जिलाधिकारी ने कांटेक्ट ट्रेसिग गुणवत्ता पूर्वक कराने, संचालित प्राइवेट अस्पतालों में मानक के अनुसार बेड की संख्या बढ़ाने के साथ कोविड मरीजों को समय पर एंबुलेंस उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। कहा है कि कोविड टेस्ट सेंटर एवं सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ न हो। मास्क अनिवार्य किया जाए। सेंटर पर शारीरिक दूरी बनाये रखने के लिए निर्धारित स्थानों पर गोले बनाए जाएं। आम जनता को नियमित रूप से मॉस्क, सैनिटाइजर और सामाजिक का उपयोग करने के लिए जागरूक किया जाए। जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना के केसों को देखते हुए सर्विलांस टीम की सक्रियता बढ़ाते हुए अधिक से अधिक व्यक्तियों की सैंपलिग कराई जाए। साथ ही बाहर से आने वाले व्यक्तियों पर भी कड़ी निगरानी रखी जाए, जिससे कि लक्षण युक्त व्यक्तियों की पहचान की जा सके।

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि एमडीटीबी चिकित्सालय, हाथरस में 30 बेड उपलब्ध हैं, इनको बढ़ाकर 40 बेड की व्यवस्था कर एल-2 कोविड फैसिलिटी में परिवर्तित किया जाए तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुरसान को 30 बेड से बढ़ाकर 50 बेड की व्यवस्था कर एल-2 कोविड फैसिलिटी में परिवर्तित किया जाए।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आरबी भास्कर, अपर जिलाधिकारी जेपी सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. बृजेश राठौर, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी,नोडल डॉ. डीके अग्रवाल, डॉ. विजेंद्र सिंह मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.