भारत को विश्व गुरु बनाने पर जोर

एक दिन हर छात्र से एक घंटे के लिए देश व समाज के लिए मांगा बीएलएस इंटरनेशनल स्कूल ब्रज प्रांत की बैठक में वोले वक्ता।

JagranThu, 25 Nov 2021 02:04 AM (IST)
भारत को विश्व गुरु बनाने पर जोर

जासं, हाथरस : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के आयाम स्टूडेंड फार सेवा (एसएफएस) की ब्रंज प्रांत की बैठक में भारत को फिर से विश्व गुरु बनाने की बात उठी। इसके लिए हर छात्र से देश व समाज के लिए रोजाना एक दिन में एक घंटे का समय मांगा गया। कहा गया कि सेवा भाव के जरिए हम जरूरतमंदों की सेवा कर सकते हैं।

अलीगढ़ रोड स्थित बीएलएस इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित बैठक में अखिल भारतीय सेवा कार्य प्रमुख कमल नयन ने कहा कि भारत की परिकल्पना ही सेवा परमो धर्म: है। यही हमारी संस्कृति का मूल भी है। स्टूडेंट फार सेवा आयाम के माध्यम से विद्यार्थी परिषद के लोग सेवा संकल्पना को साकार करने का काम करते हैं। कोरोना काल में भी इसके कार्यकर्ताओं ने जान की परवाह किए बिना ही लोगों की मदद की है।

उन्होंने सभी पदाधिकारियों से कहा कि वह इस आयाम के माध्यम से सेवा बस्तियों में परिषद की पाठशाला, जरूरतमंद छात्रों के लिए पुस्तक, बैग जैसे सभी जरूरी चीजों को उपलब्ध करने का कार्य कर सकते हैं। इस आयाम को बढ़ाने के लिए कालेज इकाई तक सभी को अलग-अलग दायित्व दे सकते हैं।

क्षेत्रीय संगठन मंत्री मनोज नीखरा ने सभी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि समाज की हर प्रकार की मदद करें। अपने कालेज में, गांव तथा शहर में एवं कॉलोनियों में सेवा सप्ताह चलाकर समाज की सेवा कर स्टूडेंट फार सेवा के मकसद सेवा परमोधर्म: को साकार करें। इस बैठक में राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य (विशेष आमंत्रित) डा. राकेश चंद्र चतुर्वेदी, प्रांत संगठन मंत्री जयकरन, प्रांत मंत्री बलदेव चौधरी, सीडब्ल्यूसी सदस्य प्रियंका तिवारी तथा प्रांत संयोजक कुनाल दिवाकर मौजूद रहे। संचालन ब्रज प्रांत सह सोशल मीडिया संयोजक विकास शर्मा ने किया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.