भैंस निकालते समय ईशन नदी में डूबा किसान, तलाश जारी

सिकंदराराऊ में गई भैंस पानी में कहावत तो सुनी होगी। यहां तो पानी में गई भैंस को निकालने गया किसान डूब गया।

JagranTue, 03 Aug 2021 04:44 AM (IST)
भैंस निकालते समय ईशन नदी में डूबा किसान, तलाश जारी

संसू, हाथरस : सिकंदराराऊ में 'गई भैंस पानी में' कहावत तो सुनी होगी। यहां तो पानी में गई भैंस को निकालने गया किसान डूब गया। उसे तलाशने के लिए ईशन नदी में लगी पुलिस प्रशासन की टीमों को समाचार लिखे जाने तक सफलता नहीं मिली थी।

सूखी रहने वालीं नदियां व नाले बारिश के चलते अब भरकर चल रहे हैं। हाथरस रोड स्थित गांव नगला बिहारी निवासी 62 वर्षीय किसान गंगाराम सुआ मोहनपुर के पास से गुजर रही ईशन नदी के पास भैंस चरा रहे थे। तभी उनकी भैंस उफान ले रही ईशन नदी में चली गई। भैंस को निकालने के लिए वह नदी के पानी में उतर गए। भैंस तो निकल आई मगर गंगाराम नदी में ही रह गए। गहराई में धंसते जाने पर उनकी चीख पुकार सुन वहां पर भीड़ जमा हो गई। भीड़ के चलते हाथरस-सिकंदराराऊ मार्ग पर जाम लग गया। मौके पर पहुंची पुलिस के साथ उपजिलाधिकारी मनोज कुमार सिंह व एसएचओ प्रवेश राणा ने जाम खुलवाकर गंगाराम की तलाश नदी में शुरू कराई। शाम को अंधेरा होने और नदी में पानी के उफान से गंगाराम को तलाशने में कठिनाई हो रही थी। समाचार लिखे जाने तक तलाश में लोग लगे हुए थे। एसडीएम ने बताया गंगाराम की नदी में तलाश की जा रही है। अभी तक उनका कोई पता नहीं चला है। वह भैंस निकालने के लिए नदी में घुसे थे। एक लाख की खातिर

दो बहनों का उत्पीड़न

संसू, सादाबाद : कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला चांद निवासी भगवान स्वरूप ने कोतवाली में तहरीर देकर पुत्रियों के ससुरालीजनों पर गंभीर आरोप लगाया है। पीड़ित का कहना है कि उसकी दो पुत्रियां बबली एवं बबिता का विवाह कन्हैयालाल एवं उमेश कुमार के साथ तीन वर्ष पूर्व हुआ था, जिसमें साम‌र्थ्य से अधिक दान दहेज दिया था। पुत्रियों के ससुरालीजन दहेज से संतुष्ट नहीं थे। दहेज में एक लाख रुपये की मांग को लेकर उनकी पुत्रियों के साथ मारपीट करने लगे। मारपीट करते हुए 31 जुलाई को ये लोग कुरसंडा वाले बंबा पर लाए इसी दौरान वह अपनी पत्नी के साथ साइकिल से सादाबाद से कुरसंडा जा रहे थे। जब उनकी नजर पुत्रियों पर पड़ी तो दोनों वहां पहुंचे। पुत्रियों को बमुश्किल बचाया। वे लोग जाते समय धमकी दे गए हमारे घर में आकर रहना है तो एक लाख रुपये लेकर आना, अन्यथा दोनों बहनों को जान से मार देंगे। मारपीट में दोनों पुत्रियों को काफी चोट आई हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.