विद्युत कर्मी जान जोखिम में डालकर कर रहे काम

विद्युत कर्मी जान जोखिम में डालकर कर रहे काम

हादसों के बावजूद बिजली विभाग सबक नहीं ले रहा है। विभाग में कर्मचारी बिना सुरक्षा किट के हाईटेंशन लाइन पर चढ़कर काम कर रहे हैं।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 04:30 AM (IST) Author: Jagran

जासं, हाथरस : हादसों के बावजूद बिजली विभाग सबक नहीं ले रहा है। विभाग में कर्मचारी बिना सुरक्षा किट के हाईटेंशन लाइन पर चढ़कर काम कर रहे हैं। आजकल बकायेदारों के कनेक्शन काटने का अभियान भी चल रहा है। अक्सर पोल पर बिना सुरक्षा किट के कर्मचारी काम करते देखे जा सकते हैं।

यह व्यवस्था : बिजली विभाग की ओर से ठेकेदार के माध्यम से संविदा कर्मी रखे गए हैं। यही कर्मचारी लाइन जोड़ने और काटने का काम के अलावा बिजलीघरों पर भी रहते हैं। फॉल्ट सही कराने का काम भी इनसे लिया जाता है।

यह उपकरण हैं जरूरी : जिन कर्मचारियों से काम लिया जाता है उन्हें हेलमेट के अलावा सेफ्टी बेल्ट, ग्लव्स, जूता, सीढ़ी आदि उपलब्ध कराना जरूरी होता है, मगर यह कर्मचारी बिना सीढि़यों के पोल पर चढ़ते हैं और इनके पास सेफ्टी बेल्ट भी नहीं होती है। बिना ग्लव्स और जूता के ही काम करते हुए नजर आते हैं। ऐसे होते है हादसे : अक्सर हाईटेंशन लाइन पर काम करते समय अचानक लापरवाही से शटडाउन के बावजूद लाइन को चालू कर दिया जाता है। इससे अचानक लाइन में करंट आने से कर्मचारी चपेट में आकर हादसे के शिकार हो जाते हैं। ग्लव्स रहने पर ऐसे हादसे में जान बच सकती है। इनका कहना है

कई बार मौखिक और लिखित में अफसरों को बताया जा चुका है लेकिन ठेकेदार कर्मचारियों को अनुबंध के अनुरूप सुविधाएं नहीं देते हैं। इस वजह से हादसे भी होते हैं। आश्रितों को मुआवजा के लिए चक्कर लगाने पड़ते हैं।

राजाबाबू सारस्वत, कर्मचारी नेता अनुबंध के आधार पर ठेकेदारों को सुरक्षा किट देने के निर्देश दिए जाते हैं। कर्मचारियों को दी जाने वाली सुविधा में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

-हरीमोहन, अधीक्षण अभियंता

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.