दहेज के विवाद में महिला को मायके में आकर पीटा

संसू, हाथरस : शादी के बाद बूथ खोलाई (शादी का मंडप हिलाने की प्रथा) के रूप में एक लाख रुपये तथा बुलेट की माग पूरी न होने पर विवाहिता के मायके में आकर मारपीट के साथ पथराव किया गया। रिपोर्ट दर्ज कराने पर जान से मारने की धमकी दी गई। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर कोतवाली में पति समेत छह लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

सिकंदराराऊ नगर के मोहल्ला दमदपुरा पूर्वी निवासी मंजू पुत्री महेश चन्द्र ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया है कि उनकी शादी 24 फरवरी 2014 को अरविन्द कुमार, आरक्षी जीआरपी फतेहगढ़ (फर्रूखाबाद) के साथ हुई थी। शादी सात लाख रुपये में तय हुई थी। शादी में करीब दस लाख रुपये खर्च हुए थे। शादी के बाद एक लाख रुपये बूथ खोलाई तथा एक बुलेट बाइक की माग की गई। जब वह दोबारा ससुराल पहुंची तो पुन: उससे वह माग की गई तथा उसके सभी जेवर उतरवा लिए गए। विवाद बढ़ने पर उसे घर से निकाल दिया गया, तब से वह मायके में रह रही है। 15 जून 2018 को ससुरालीजन आए और उसके घर पर पथराव कर दिया। घर पर वह और उसकी मा थी। दरवाजा खोलकर देखने पर सभी लोग घर में घुस आए और मारपीट करने लगे। जान से मारने की नीयत से मेरा गला दबाया, जिससे मैं बेहोश हो गई। ससुराली जन मुझे मरा हुआ जानकर चले गए। मंजू को उसकी मा ने अस्पताल में भर्ती कराया। अभी तक उसका उपचार चल रहा है। मंजू ने उल्लेख किया है कि उक्त लोगों ने कहा है कि तलाक दे दो, वरना जान से मार देंगे। तलाक के लिए अर्जी कोर्ट में डाली गई है। इस मामले की रिपोर्ट पति अरविन्द, सास शारदा देवी, ससुर देवी सिंह, ननद रितु, जेठ हेमंत तथा जेठानी हरीश कुमारी निवासीगण नगला बूढ़ी न्यू आगरा के खिलाफ 498ए, 452, 323, 504, 506 के तहत दर्ज कराई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.