संविधान का अनुपालन सबकी नैतिक जिम्मेदारी

संविधान दिवस पर पूरे जनपद में हुए कार्यक्रम जनपद न्यायाधीश ने दिलाई संविधान के पालन की शपथ।

JagranPublish:Sat, 27 Nov 2021 05:08 AM (IST) Updated:Sat, 27 Nov 2021 05:08 AM (IST)
संविधान का अनुपालन सबकी नैतिक जिम्मेदारी
संविधान का अनुपालन सबकी नैतिक जिम्मेदारी

संवाद सहयोगी, हाथरस : भारतीय संविधान दिवस जिले में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। सामाजिक, शैक्षिक व सरकारी संगठनों ने इस अवसर पर शहर से लेकर देहात तक बैठक, गोष्ठी व अन्य कार्यक्रम आयोजित कर संविधान का पालन करने पर जोर देते हुए ईमानदारी से कार्य करने की शपथ ली।

संविधान दिवस जनपद न्यायाधीश के न्यायालय कक्ष में मनाया गया। अध्यक्षता करते हुए जनपद न्यायाधीश मृदुला कुमार ने बताया कि प्रत्येक व्यक्ति को भारतीय संविधान का अनुपालन करने की नैतिक जिम्मेदारी निभानी चाहिए। उन्होंने संविधान की उद्देशिका का पाठ करते हुए सभी को शपथ दिलाई। इसमें विशेष न्यायाधीश व नोडल अधिकारी अनुराग पवार, प्राधिकरण की जिला सचिव चेतना सिंह सहित अन्य न्यायिक अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा सेठ हरचरन दास, कन्या इंटर कालेज में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इसमें जिला सचिव चेतना सिंह, मोनिका गौतम, हरीश कुमार शर्मा एडवोकेट, प्रधानाचार्य डा. सरिता देवी, दिनेश चौहान, मौजूद रहे।

भारतीय संविधान दिवस पर नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा ने संविधान निर्माता डा. भीमराव आंबेडकर के छविचित्र पर माल्यार्पण कर संविधान के बारे में लोगों को जागरूक किया। इसमें दिनेश शर्मा, ताराचंद माहेश्वरी, जितेंद्र शर्मा मौजूद रहे।

संविधान दिवस पर नेहरू युवा केंद्र की ओर से विचार गोष्ठी, चित्रकला प्रतियोगिता के साथ शपथ ग्रहण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें जिला युवा अधिकारी दिव्या शर्मा, ऊषा सक्सेना, अनुराग पचौरी, एनके पचौरी मौजूद रहे। भाजपा युवा मोर्चा ने भी संविधान दिवस मनाया गया। इसमें सनी गौतम, गौरव, देवराज, गिरीश, कालू, आकाश मौजूद थे। जुल्म के खिलाफ आवाज संगठन ने संविधान दिवस गांव परसारा के आंबेडकर पार्क में मनाया। कार्यक्रम में निश्शुल्क पाठशाला का शुभारंभ किया गया। इसमें चौ. विजेंद्र सिंह, सुनीता सिंह, बाबी प्रताप सिंह, संजीव कुमार एडवोकेट, इंजीनियर पंकज कुमार व डीपी सिंह मौजूद रहे। संविधान दिवस पर बाबा साहब

की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण

संसू, सादाबाद : समाजवादी पार्टी की ओर से संविधान दिवस पर मोहल्ला पोखरवाला स्थित आंबेडकर पार्क में आंबेडकर प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया गया। इसमें जैनुद्दीन चौधरी, हाफिज सफीक, अवनीश सागर, मोनू जाटव, निजात खान, अवधेश बाबा, जफरुद्दीन, निक्की सागर, भानुप्रताप, सैलानी मल्ल, किफ़ात खान, संजय, डा. लखन मौजूद थे। इसी पार्क में नवयुवक संघ सेवा समिति ने भी बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनके बताए रास्ते पर चलने का संकल्प लिया। इसमें राजेश किग, राजकपूर, विपिन कुमार, सुनील कुमार, टीटू भाई, राजेश कुमार, मुरारी लाल उपस्थित रहे। हसायन में भी ली शपथ

कस्बा हसायन के हनुमान इंटर कालेज में अध्यापकों ने संविधान दिवस पर विद्यार्थियों को संविधान के बारे में जानकारी देते हुए उन्हें शपथ दिलाई। सभी ने संविधान का पालन करने व ईमानदारी से अपने दायित्वों का पालन करने की शपथ ली। इसमें कालेज के प्रधानाचार्य, शिक्षक व विद्यार्थी मौजूद रहे। -------------------- पुलिस कर्मियों को दिलाई

मौलिक कर्तव्यों की शपथ

संवाद सहयोगी, हाथरस : पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने 'संविधान दिवस-2021' के अवसर पर पुलिस कार्यालय में अधीनस्थों को शपथ दिलाई। इस दौरान अपर पुलिस अधीक्षक हाथरस प्रकाश कुमार, प्रतिसार निरीक्षक बिहारी सिंह यादव एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय के समस्त अधिकारी व कर्मचारीगण मौजूद रहे । पुलिस अधीक्षक ने बताया कि संविधान दिवस वर्ष 2015 से मनाया जा रहा है। हम इस वर्ष 7वां संविधान दिवस मना रहे हैं। 26 नवंबर 1949 को देश की संविधान सभा ने संविधान को विधिवत अपनाया था मगर इसे लागू 26 जनवरी 1950 को किया गया जिस दिन गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि संविधान कभी ऊंच-नीच नहीं देखता है, जो अधिकार एक सामान्य व्यक्ति को है वहीं अधिकार सभी को है। समस्त कोतवाली व शाखाओं में संविधान में निर्धारित कर्तव्य पालन की शपथ दिलाई गई गई। संविधान के अनुरूप

चलने का आह्वान

जासं, हाथरस : संविधान दिवस के अवसर पर दिल्ली और लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम का सजीव प्रसारण जिला दीवानी न्यायालय हाथरस, कलक्ट्रेट परिसर तथा तहसील स्तर पर सूचना विभाग के एलईडी वैन के माध्यम से किया गया। इसमें संविधान की उद्देशिका हम, भारत के लोग, भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व संपन्न समाजवादी, पंथनिरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय के ²ढ़ संकल्प के साथ शपथ दिलाई गई। संविधान के अनुसार चलकर राष्ट्र के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान देने का आह्वान किया गया।