वाहन चोरी कर बेचता था बाइक मिस्त्री

संवाद सहयोगी, हाथरस : चंदपा पुलिस ने वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश किया है। चंदपा का एक बाइक मिस्त्री ही वाहन चोरी कर लाता था तथा उन्हें औने-पौने दामों पर बेच देता था। एक ग्राहक ने इस मिस्त्री से बाइक खरीदी थी। यह बाइक ट्रांसफर न होने पर ग्राहक ने विरोध किया था। यहां से पुलिस सो वाहन चोर गिरोह के सुराग मिले। पुलिस ने जाल बिछाकर बाइक मिस्त्री को चोरी की चार मोटरसाइकिलों के साथ गिरफ्तार कर लिया।

एसएचओ चंदपा विनोद कुमार ने प्रेस वार्ता में बताया कि चंदपा के गांव भटेला का रहने वाला अजीत पुत्र राधाचरन अपने भाई अर¨वद के साथ मिलकर कई साल से चोरी के वाहन बेचने का काम कर रहा था। ये लोग खुद बाइक चुराकर लाते तथा यहां बेचते रहे हैं। एसचओ ने बताया कि दिसंबर-2017 में आइसीआइसीआइ बैंक, पुराना बस स्टैंड, अलीगढ़ से एक बाइक चोरी की गई थी। यह बाइक दोनों भाइयों ने सादाबाद के गांव मांगरू निवासी गोपाल को 26 हजार रुपये में बेच दी थी। कई दिनों से गोपाल मिस्त्री की दुकान के चक्कर काट रहा था कि बाइक ट्रांसफर हो जाए, लेकिन मिस्त्री गुमराह कर रहा था। परेशान गोपाल कुछ दिन पहले बाइक मिस्त्री की दुकान पर ही छोड़कर चले गए थे। उसने रुपये वापस करने के लिए बोल दिया था। इस विवाद की जानकारी स्थानीय लोगों के जरिए पुलिस को मिल गई। पुलिस ने छानबीन शुरू की तो पता चला कि अजीत व अर¨वद आसपास के जिलों से गाड़ी चोरी करके लाते हैं तथा उसे काटकर बेच देते हैं। कभी-कभी तो केवल नंबर प्लेट बदलकर बाइक बेच दी जाती थी। दुकान से पुलिस ने चोरी की चार बाइकें बरामद की हैं। एसआइ रामसरन व उनकी टीम ने शातिर को गिरफ्तार किया। अर¨वद की तलाश की जा रही है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.