दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

संक्रमण से बचना है तो बरतें सावधानी

संक्रमण से बचना है तो बरतें सावधानी

वैक्सीन की दोनों डोज लेना आवश्यक शारीरिक दूरी और मास्क का करना होगा पालन।

JagranTue, 20 Apr 2021 01:16 AM (IST)

संस, हाथरस : कोविड-19 संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है, इससे बचाव के लिए सावधानी बहुत जरूरी है। हमें घर से बाहर निकलते समय और वापसी के बाद विशेष ध्यान देना है। तभी खुद को और अपनों को सुरक्षित रख सकेंगे। कोविड-19 से बचाव के लिए टीका लगवाना भी जरूरी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. बृजेश राठौर की सलाह है कि कोरोना से बचाव के लिए बाहर से आने के बाद खुद को और आने वाले सामान को भी संक्रमण मुक्त करें। घर आने के बाद साधारण एहतियाती उपाय करके संक्रमण को आगे बढ़ने से रोक सकते हैं। वैसे तो बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें। स्वच्छता तथा सावधानी से संबंधित नियमों का पालन करें। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. विजेंद्र सिंह ने कहा कि वैक्सीन लगने के बाद भी मास्क पहनना व शारीरिक दूरी का पालन करना जरूरी है। कोविड-19 से बचाव के लिए दोनों डोज लगवाना आवश्यक है। इन बातों का ख्याल :

डोरबेल, कूड़ादान, लिफ्ट के बटन, कार के दरवाजे, बगीचे के फूल, जूते-चप्पल, दरवाजे के हैंडल को जब भी छुएं तो फौरन हाथ धोएं।

-घर में प्रवेश करने के बाद किसी भी वस्तु को छूने से बचें।

-जूते या चप्पल घर से बाहर ही निकालकर प्रवेश करें, कपड़ों को निकालकर अलग किसी ऐसे बॉक्स में रखें जिसको को न छुएं।

-बाहर से घर आने पर हाथों को अच्छे से धोएं तथा अपने चेहरे या आँख को न छुएं।

-शरीर को सा़फ और सुरक्षित रखने के लिए साबुन से स्नान करें।

-फोन, पर्स, पेन, बैग, बेल्ट, चाबी, मोबाइल चार्जर, लैपटाप, चेन आदि को भी पूरी तरह सैनिटाइ•ा करें। बाहर से आने वालों की हो जांच : रामवीर

संस, हाथरस : पूर्व मंत्री और सादाबाद विधायक रामवीर उपाध्याय ने सोमवार को वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाई। इसके साथ ही उनकी पत्नी पूर्व सांसद सीमा उपाध्याय ने भी कोविड टीका लगवाया। पूर्व मंत्री ने कोरोना महामारी को लेकर डीएम को पत्र लिखा है।

विधायक ने कहा है कि कोरोना महामारी से देश विषम परिस्थितियों से गुजर रहा है। हालात बेकाबू होते नजर आ रहे हैं। ऐसी स्थिति में जनपद भर में बाहर से आने वाले व्यक्तियों पर विशेष निगाह रखते हुए सभी की जांच कराना जरूरी है। एक कन्ट्रोल रूम की स्थापना कर उसका नंबर सार्वजनिक कर जानकारी लोगों को दी जाए। भीड़ को कम करने के लिए रोस्टर के हिसाब से बाजार खुलवाए जाएं। सख्ती के बाद भी बच्चों को बुलाने वाले स्कूल संचालकों से सख्ती से निपटना जरूरी है। संक्रमित क्षेत्रों में व उनके आसपास सैनिटाइजेशन सुनिश्चित कराया जाए। स्वास्थ्य विभाग की ढुलमुल

नीतियों से परेशान हैं लोग

फोटो- 27

संसू, सिकंदराराऊ: पूर्व विधायक यशपाल सिंह चौहान ने सोमवार को पत्रकार वार्ता में कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते लगातार हालात बिगड़ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की ढुलमुल नीति के कारण लोग परेशान हैं। जिलाधिकारी इसका संज्ञान लेकर मरीजों को इलाज मुहैया कराएं। उन्होंने संक्रमण के भयानक रूप से बचने के लिए चुनाव स्थगित करने की मांग मुख्यमंत्री से की है। उन्होंने संक्रमण से भयभीत नहीं होने और अधिक संख्या में टीकाकरण कराने के लिए लोगों को जागरूक किया। इसमें सुखवीर सिंह, सोमेंद्र प्रधान, प्रमोद सिसोदिया, भानु बघेल मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.