फिर बिगड़ा मौसम, घंटों कोहरे का साया

फिर बिगड़ा मौसम, घंटों कोहरे का साया

मौसम का मिजाज मंगलवार को फिर बिगड़ गया। सुबह जब लोग घरों से निकले तब कोहरा नहीं था लेकिन अचानक कोहरे ने चादर तान दी। इससे अधिक ठंड का अहसास हुआ। वाहनों को भी हेडलाइट जलाकर निकलना पड़ा।

JagranWed, 20 Jan 2021 03:42 AM (IST)

जासं, हाथरस : मौसम का मिजाज मंगलवार को फिर बिगड़ गया। सुबह जब लोग घरों से निकले तब कोहरा नहीं था, लेकिन अचानक कोहरे ने चादर तान दी। इससे अधिक ठंड का अहसास हुआ। वाहनों को भी हेडलाइट जलाकर निकलना पड़ा। गति भी धीमी थी। सादाबाद, सासनी, सिकंदराराऊ के अलावा अन्य कस्बों में भी ठंड से लोगों का हाल बेहाल रहा।

मंगलवार की सुबह लोग मॉर्निंग वाक और अन्य काम से निकले तब कोहरा कम था। आठ बजे से कोहरा अचानक बढ़ता चला गया और ²श्यता कम होती चली गई। कोहरा इतना बढ़ गया था कि आसपास के लोग भी दिखाई नहीं दे रहे थे। सोमवार की तुलना में न्यूनतम तापमान भी एक डिग्री कम हो गया। सोमवार को अधिकतम तापमान 18 डिग्री और न्यूनतम 12 डिग्री रहा तो मंगलवार को अधिकतम तापमान 18 डिग्री और न्यूनतम तापमान 11 डिग्री हो गया। ठंड अधिक होने के कारण लोग अलाव जलाकर तापते नजर आए। घरों, दुकानों और ऑफिसों में लोग रूम हीटर, गैस हीटर और हीट ब्लोअर का प्रयोग करते हुए नजर आए। जब सूर्यदेव के दर्शन हुए तो लोगों को धूप से राहत मिली। धूप में सामान्य दिनों की तुलना में गर्माहट कम थी। सूर्यास्त के बाद ठंड और बढ़ती गई। आने वाले कुछ दिनों में ठंड पड़ने का अनुमान लगाया जा रहा है।

किसानों की चिता : कभी घना कोहरा तो कभी शीतलहर से किसान भी चितित हैं। आजकल खेतों में सरसों और आलू की फसल लगातार बढ़ रही है। आलू में अधिक ठंड से झुलसा का खतरा बढ़ जाता है। वहीं गेहूं की फसल के लिए यह मौसम अच्छा माना जा रहा है। सर्दी से ठिठुरते गरीबों को प्रशासन की मदद

जासं, हाथरस : शीतलहर को देखते हुए शासन के निर्देश पर प्रशासन ने गरीबों कंबल वितरण की व्यवस्था कर दी है। इसके लिए 10-10 हजार रुपये तहसील प्रशासन को दिए गए हैं। शासन के निर्देश पर कलक्ट्रेट परिसर में आपदा प्रबंधन कक्ष पहले ही खोल दिया गया है। इससे पहले दिसंबर में शासन की ओर से 20-20 लाख रुपये की दो किस्तें कंबल वितरण के लिए दी गई थीं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.