आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के हाथ में आज से स्मार्ट फोन

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा वेब पोर्टल पर लाभार्थियों से संबंधित सूचनाओं को भरने में आ रही कठिनाई को दूर करने के लिए सरकार ने उन्हें स्मार्टफोन देने का निर्णय लिया है।

JagranTue, 28 Sep 2021 12:56 AM (IST)
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के हाथ में आज से स्मार्ट फोन

जासं, हाथरस : आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा वेब पोर्टल पर लाभार्थियों से संबंधित सूचनाओं को भरने में आ रही कठिनाई को दूर करने के लिए सरकार ने उन्हें स्मार्टफोन देने का निर्णय लिया है। जिले में कार्यरत 1511 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन मिलेगा। स्मार्टफोन वितरण 28 सितंबर को लखनऊ से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा किया जाएगा और उसी के साथ जिला मुख्यालय पर भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को फोन वितरित किए जाएंगे। जिले में स्मार्टफोन की आपूर्ति हो चुकी है। कलक्ट्रेट सभागार में दोपहर 11:30 बजे भव्य कार्यक्रम आयोजित कर स्मार्टफोन का वितरण किया जाएगा। जिला कार्यक्रम अधिकारी डीके सिंह ने बताया कि आंगनबाड़ी केंद्रों पर पंजीकृत लाभार्थियों का प्रत्येक महीने वजन, लंबाई और उनके आधार नंबर सहित व्यक्तिगत विवरण को पोषण ट्रैकर वेबसाइट पर भरना होता है, जिसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को किसी साइबर कैफे से अथवा अपने निजी मोबाइल फोन का इस्तेमाल करना पड़ता है और फोन रिचार्ज कराने में कुछ धनराशि भी खर्च करनी पड़ती है। उनकी कठिनाई को ध्यान में रखते हुए सरकार ने उन्हें स्मार्टफोन मुहैया करा रही है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को डाटा रिचार्ज के लिए 200 रुपये प्रतिमाह की दर से उनके खाते में भेजी जा रही है। अस्पताल में काटा हंगामा

संस, हाथरस : शहर की एक कालोनी की रहने वाली श्रृष्टि को उसके स्वजन उपचार के लिए जिला अस्पताल की इमरजेंसी कक्ष में लेकर आए। श्रृष्टि को पेट दर्द की शिकायत थी। स्वजन ने बेहतर इलाज न मिलने पर हंगामा कर दिया, जबकि अस्पताल प्रशासन का कहना है कि उपचार दिया जा रहा था, लेकिन हंगामा करने के बाद स्वजन निजी अस्पताल में अपने मरीज को ले गए। सिविल सेवा में चयन

पर बढ़ाया हौसला

संस, हाथरस : सिविल सेवा परीक्षा में 554वीं रैंक हासिल करने वाले अरुण कुमार का सोमवार को एसपी विनीत जायसवाल ने हौसला बढ़ाया। अपने कार्यालय पर उन्हें बुलाकर स्वागत किया और बधाई दी। एसपी ने उनसे पढ़ाई के अनुभवों के बारे में भी बात की और उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं। अरुण कुमार सिंह की मां सत्यवती सिंह शिक्षिका हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.