11,277 अभ्यर्थियों के अरमानों पर पानी फिरा

टीईटी का पेपर रद होने से परीक्षार्थियों में दिखी मायूसी बसों में मुफ्त सफर की सुविधा का मरहम।

JagranMon, 29 Nov 2021 12:52 AM (IST)
11,277 अभ्यर्थियों के अरमानों पर पानी फिरा

तुषारापात

पेपर लीक हो जाने से बीच में ही परीक्षा निरस्त का आया फरमान

केंद्रों पर हंगामे की स्थिति को देखते हुए तैनात किया गया पुलिस बल संवाद सहयोगी, हाथरस : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) का पेपर रद हो जाने का आदेश आते ही परीक्षार्थियों में मायूसी छा गई। परीक्षा केंद्रों पर हंगामे की स्थिति को देखते हुए पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। अब एक महीने बाद होने वाली परीक्षा की अगली तिथि का इंतजार रहेगा।

शिक्षक पात्रता परीक्षा का पेपर लीक होने से जिले के 22 केंद्रों पर होने वाली परीक्षा रद कर दी गई। प्राथमिक स्तर के 14 परीक्षा केंद्रों पर 7071 परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी, जबकि आठ उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा आठ केंद्रों पर होनी थी, जिसमें 4206 परीक्षार्थियों को शामिल होना था। पेपर लीक होने की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी के निर्देश पर परीक्षा निरस्त करने की घोषणा परीक्षा केंद्रों पर की गई।

अचानक आया फरमान

रविवार सुबह साढ़े नौ बजे से प्राथमिक स्तर की परीक्षा शहर के चौदह केंद्रों पर शुरू हो गई थी। परीक्षार्थियों को प्रवेश देने के बाद दस बजे प्रश्न पत्र सौंप दिए गए। प्रश्न पत्र को परीक्षार्थी हल कर ही रहे थे कि करीब सवा दस बजे अचानक परीक्षा कक्षों में कक्ष निरीक्षकों ने परीक्षार्थियों को पेपर रद होने की जानकारी दी। उन्हें बताया गया कि पेपर लीक हो गया है। केंद्रों के बाहर पुलिस फोर्स तैनात

परीक्षा रद होने की जानकारी जैसे ही परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थियों को हुई तो मायूसी छा गई। तमाम परीक्षार्थी पेपर लीक करने वालों को कोस रहे थे। कई महीने से पेपर की तैयारी में जुटे थे। परीक्षा रद होने पर परीक्षार्थियों में आक्रोश न भड़क जाए, इसको देखते हुए प्रत्येक केंद्र के बाहर पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया गया। शांतिपूर्ण तरीके से परीक्षार्थी चले गए, तब प्रशासन और पुलिस महकमे के अफसरों ने राहत की सांस ली। सरस्वती कालेज में रखे गए पेपर व ओएमआर

परीक्षा केंद्रों पर पेपर रद होने के बाद सभी परीक्षार्थियों से कक्ष निरीक्षकों ने प्रश्न पत्र व ओएमआर शीट वापस ले ली। सभी पेपर व ओएमआर सीटों को सेक्टर मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में सरस्वती इंटर कालेज के एक कमरे में रखवाकर उसे सील कर दिया गया। अब अगली तारीख की घोषणा होने पर परीक्षा होगी।

सक्रिय रहा खुफिया तंत्र

पेपर लीक होने की जानकारी लगने के बाद पुलिस महकमे के अधिकारी अलर्ट हो गए। शामली में पेपर लीक होने की जानकारी मिलने के बाद पुलिस व खुफिया तंत्र जानकारी जुटाने में लग गया कि कहीं जिले से तार तो नहीं जुड़े रहे। कहीं साल्वर या मुन्नाभाई यहां परीक्षा देने के लिए तो नहीं आए हैं। छानबीन करने बाद जब जिले के तार जुड़े नहीं मिले तो अफसरों ने राहत की सांस ली।

बोले परीक्षार्थी

फोटो-16

प्राथमिक स्तर का पेपर काफी सरल आया था। पंद्रह मिनट में करीब बीस सवालों को हल कर लिया था, लेकिन अचानक पेपर रद होने की जानकारी लगते ही झटका लगा। कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

मोहनी फोटो-17

परीक्षा के लिए कई महीने तक कोचिग सेंटर में जाकर तैयारी की। परीक्षा पास करने की पूरी उम्मीद थी, लेकिन परीक्षा निरस्त हो जाने से मायूसी मिली। अब जल्द नई तिथि में परीक्षा आयोजित करानी चाहिए।

नागेंद्र फोटो-18

टाईटी के पेपर को लेकर काफी उत्साहित था। प्राथमिक स्तर का प्रश्न पत्र काफी सरल आया। बीस सवालों को हल कर दिया था। पूरी उम्मीद थी कि परीक्षा पास कर लूंगा, लेकिन परीक्षा निरस्त कर दी गई।

प्रेम सिंह फोटो- 19

कई महीने से परीक्षा का इंतजार था। परीक्षा निरस्त होने से अरमान पूरे नहीं हो सके। अब नए सिरे से एक बार फिर परीक्षा की तैयारी में जुटना पड़ेगा। जल्द ही परीक्षा का आयोजन अफसरों को कराना चाहिए।

आभा रावल

वर्जन..

टीईटी के अभ्यर्थियों के लिए सभी लोकल रूटों पर बसों के फेरे बढ़ा दिए गए थे। जरूरत के हिसाब से अतिरिक्त बसों की भी व्यवस्था की थी। इस परीक्षा में परीक्षार्थियों के लिए निश्शुल्क यात्रा कराने को कोई दिशा-निर्देश नहीं था। इसीलिए यह सुविधा नहीं दी गई। पेपर दुबारा होने पर मुख्यालय से शासनादेश मिलने पर ही परीक्षार्थियों को निश्शुल्क यात्रा की सुविधा दी जाएगी।

-मो. परवेज खान, आरएम, परिक्षेत्र अलीगढ़

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.