महिला की हत्या कर शव नदी में फेंका

हरदोई-शाहजहांपुर मार्ग पर शिरोमणि नगर पुल से फेंका गया शव महिला की नहीं हो सकी पहचान पुलिस कर रही पहचान का प्रयास

JagranPublish:Tue, 30 Nov 2021 09:52 PM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 09:52 PM (IST)
महिला की हत्या कर शव नदी में फेंका
महिला की हत्या कर शव नदी में फेंका

बेहटागोकुल: हरदोई-शाहजहांपुर मार्ग पर शिरोमणि नगर में सुखेता पुल के नीचे मंगलवार सुबह एक महिला का शव मिला। महिला के शरीर पर चोटों के निशान हैं। चोटों के निशान से महिला की पीट-पीट हत्या किए जाने की आशंका जाहिर की जा रही है।

घटना को छिपाने के लिए आरोपित ने शव को पुल से ही नीचे फेंक दिया। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से शव को नदी से निकलवाया और पहचान के प्रयास किए, लेकिन पहचान नहीं सकी।

ग्राम शिरोमणि नगर से सुखेता निकली है, जिस पर पुल बना हुआ है। मंगलवार सुबह नदी के निकट गांव के लोग शौच गए तो नदी में शव देखा। पुलिस को ग्रामीणों ने जानकारी दी। बेहटागोकुल थाना प्रभारी पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। पुलिस ने आसपास के गांव के लोगों को बुलाकर शव की पहचान का प्रयास किया, लेकिन पहचान नहीं हो सकी।

पुलिस ने शव को देखा तो पीठ पर चोटों के निशान थे, जिससे लग रहा है कि महिला की पिटाई के बाद हत्या कर शव को नदी में फेंक गया है। एएसपी पश्चिमी दुर्गेश सिंह, सीओ शाहाबाद सत्येंद्र कुमार सिंह ने भी मौका-मुआयना किया।

एएसपी ने बताया कि महिला की उम्र करीब 40 वर्ष लग रही है। पहचान का प्रयास किया जा रहा है। आशंका जाहिर की कि महिला के शव को कहीं बाहर से लाकर नदी में फेंका गया है।

रात के अंधेरे में फेंका गया शव: ग्रामीणों ने बताया कि हरदोई-शाहजहांपुर मार्ग पर रात भर वाहन चलते हैं। सोमवार शाम को ग्रामीण नदी की ओर गए थे, तब यहां शव नहीं था। हो सकता है कि रात का फायदा उठाकर किसी वाहन से महिला के शव को आरोपित ने यहां लाकर फेंक दिया। नदी में पानी न होने के कारण शव वहीं पर पड़ा रहा।

गांव के बाहर किसान का लटकता मिला शव

संडीला: क्षेत्र में मानसिक मंदित किसान का शव मंगलवार सुबह गांव के बाहर बाग में फंदे पर लटकता मिला। ग्रामीणों की जानकारी पर परिवार के लोग मौके पर पहुंचे।

ग्राम उमरताली के गजराज खेतीबाड़ी करते थे। पुत्र संदीप कुमार ने बताया कि पिता काफी दिनों से मानसिक बीमार थे और उनका इलाज भी चल रहा था, लेकिन कुछ आराम नहीं मिल रहा था। सोमवार शाम को अचानक पिता घर से निकल गए। उनकी काफी तलाश की, लेकिन कुछ पता नहीं चला। मंगलवार सुबह ग्रामीणों ने गांव के बाहर लक्ष्मण के बाग में पिता के शव को लटकते देखा।