न्यूनतम समर्थन मूल्य पर हो फसलों की खरीद: पवन हूण

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर हो फसलों की खरीद: पवन हूण
Publish Date:Thu, 01 Oct 2020 06:43 PM (IST) Author: Jagran

01एचपीआर-18 जागरण संवाददाता, हापुड़

भारत सरकार द्वारा किसानों के लिए बनाए कृषि विधेयक लाए हैं, उनके बारे में किसानों को जानकारी दी जाए। यदि यह विधेयक किसानों के हित में हैं तो ठीक, वरना इन्हें वापस लिया जाए। किसानों की फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदा जाए। यह बातें भारतीय किसान यूनियन भाकियू के जिलाध्यक्ष पवन हूण ने कहीं और मांगों के संबंध में ज्ञापन एसडीएम सत्यप्रकाश को सौंपा। बृहस्पतिवार दोपहर भाकियू भानू के पदाधिकारियों ने दिल्ली रोड स्थित जिलाधिकारी कार्यालय को जाने वाले मार्ग पर धरना दिया। यहां पवन हूण ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार आनन-फानन में कृषि विधेयकों को लाई है। जिससे किसानों में भारी आक्रोष है। उन्होंने कहा कि कृषि विधेयक यदि किसानों के हित में हैं तो उन्हें बताया जाए। अगर हित में नहीं हैं तो विधेयकों को वापस लिया जाए। वही भारत सरकार द्वारा फसल का जो न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किए गए हैं जैसे गेहूं 1975, सरसों 4650, मसूर 5100 और सभी फसलों को एमएसपी के आधार पर ही खरीददारी की जाए। उन्होंने कहा कि सभी मंडियों में एमएसपी के आधार पर फसलों की खरीद-फरोख्त नहीं की जा रही है। सभी मंडियों को आदेश दिया जाए। जिससे किसानों को उद्योगपतियों से बचाया जा सके। इस महामारी के दौर में किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिए जाएं। उन्होंने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर सरनजीत गुर्जर, अभय त्यागी, राकेश गिरी, सुबीश त्यागी, राजेंद्र डागर, प्यारेलाल, लेखपाल सिंह तोमर, टीटू गुर्जर, रामचंद्र, सचिन त्यागी, हरीश त्यागी, भोपाल, राम सिंह, राजेंद्र, ऋषिपाल, सतपाल, राधेलाल त्यागी, दिनेश त्यागी, सुधीर त्यागी, गंगाराम, शौराज, दूपी चौहान, मुकेश त्यागी, गंगाशरण, अमित त्यागी, उमेश त्यागी, सिपट्टर सिंह, सुधीर कुमार, विनीत त्यागी, मुकेश, राकेश कुमार, रवि भाटी, संजीव त्यागी, दर्शन सिंह, संजय गहलौत, बॉबी त्यागी, संजय चौधरी, बिजेंद्र गुर्जर, कृष्णवीर गब्बर, सोनू त्यागी, राजवीर सिंह, राजेंद्र गुर्जर, डॉ. दयाप्रकाश आदि कार्यकर्ता व किसान मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.