सड़क किनारे कूड़ा जला प्रदूषित कर रहे वायु

सड़क किनारे कूड़ा जला प्रदूषित कर रहे वायु
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 07:59 PM (IST) Author: Jagran

27एचपीआर20

संवाद सहयोगी, गढ़मुक्तेश्वर

क्षेत्र में कूड़े में आग लगाकर पर्यावरण में जहर घोला जा रहा है। खेतों के साथ साथ राष्ट्रीय किनारे भी कूड़े में आग लगाए जाने से यहां से गुजरने वाले वाहनों के चालक व अन्य लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अधिकारी जान कर भी अंजान बने है। स्माग के लिए मुख्य रूप से प्रदूषण, कूड़ा और पराली को जलाने को मुख्य कारण बताया जाता है। वहीं प्रशासन के अधिकारियों द्वारा मात्र कागजों में ही कार्रवाई की जा रही है, क्योंकि ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाले कूड़े को राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित सड़क किनारे डाला जा रहा है। साथ ही इसमें आग लगाकर आस पास की फिजा में जहर घोला जा रहा है। शासन के निर्देशों का इन लोगों पर कोई असर होता दिखाई नहीं देता है। रविवार को भी सिभावली क्षेत्र के गांव बक्सर के निकट सड़क किनारे डाले जाने वाले कूड़े में किसी अज्ञात व्यक्ति ने आग लगा दी गई। आग लगने से उठे धुंए ने हाइवे पर चलने वाले लोगों को काफी परेशान किया जबकि वायु को भी प्रदूषित कर दिया।

-- सांस और हृदय रोगियों को खतरनाक है स्माग

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ. दिनेश भारती ने बताया कि कूड़ा और पराली जलाने से खतरनाक प्रदूषण फैलता है। इसी प्रदूषण से सांस रोगियों की संख्या में इजाफा होगा है। एलर्जी और दिल के रोगी की संख्या में बढ़ोतरी होगी। प्रदूषण से बचने के लिए इसपर रोक लगाना बहुत जरूरी है।

क्या कहते हैं अधिकारी

न्यायालय द्वारा कूड़ा और पराली जलाए जाने पर पूर्ण रूप से रोक लगाई गई है। आदेश का पालन न करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। -एसडीएम विजय वर्धन तोमर

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.