top menutop menutop menu

एक के बाद एक रिपोर्ट दर्ज होने का सिलसिला जारी

अशरफ चौधरी, गढ़मुक्तेश्वर:

एक के बाद एक रिपोर्ट दर्ज होने के बाद भी रकम दोगुनी करने की आड़ में करोड़ों की रकम हड़पकर सैकड़ों लोगों को चूना लगाने वाला नटवर लाल पकड़ में नहीं आ रहा। इतने संगीन मामले में भी पुलिस अपेक्षित स्तर पर गंभीर नहीं हो पा रही है।

किसानों समेत सैकड़ों अशिक्षित ग्रामीणों को महज डेढ़ साल में रकम दोगुनी करने का लालच देकर उनकी गाढ़ी कमाई से जुड़ी करोड़ों की रकम हड़पने वाले नटवर लाल समेत उसके करीबी सहयोगियों के विरुद्ध एक के बाद एक रिपोर्ट दर्ज होने का सिलसिला जारी है। इसके चलते नटवर लाल समेत उसके सहयोगियों के विरुद्ध बहादुरगढ़ थाने में अब तक पांच रिपोर्ट दर्ज हो चुकी हैं। इसके बाद भी नटवर लाल पकड़ में नहीं आ पा रहा है। इतना हीं नहीं उसके जिन करीबी लोगों ने भोले-भाले ग्रामीणों को लालच में फंसाकर ठगने में अहम भूमिका अदा की थी, वे भी फिलहाल क्षेत्र में खुलेआम घूमते हुए देखे जा रहे हैं। अगर हालात पर गौर करें तो छोटे-छोटे मामलों से जुड़े आरोपितों की धरपकड़ को पुलिस ताबड़तोड़ ढंग में दबिश देती है, परंतु इतने संगीन मामले में पुलिस की गंभीरता उस स्तर पर नजर नहीं आ रही है।

बता दें, कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लॉकडाउन लागू होने के कारण करीब दो माह तक आम जनजीवन ठप रहा था। वहीं, दूसरों की गाढ़ी कमाई की रकम से कई तरह का कारोबार जमाने के साथ ही मौज मस्ती उड़ाने वाले नटवर लाल और उसके साथियों की पोल भी खुलकर सामने आ गई थी, क्योंकि कई बार तकादा करने के बाद भी ब्याज के रूप में मिलने वाला मुनाफा तो दूर बल्कि नटवर लाल और उसके साथी असल रकम तक वापस लौटाने में पूरी तरह विफल साबित हो गए। इससे चिट फंड कंपनी की आड़ में चल रही ठगी की परत खुलती चली गई और फिर हर दिन नई हकीकत सामने आने पर संबंधित लोगों की नींद उड़ती चली गई। नरेंद्र सिंह, वेदपाल, शकील, हसरत, अशोक का कहना है कि अगर लॉकडाउन लागू होने से हकीकत की पोल न खुलती तो उनके साथ ही दर्जनों अन्य क्षेत्रवासी भी लालच के चक्कर में फंसकर चिट फंड कंपनी से जुड़े नटवर लाल और उसके साथियों का शिकार बन जाते।

------

क्या कहते हैं अधिकारी

रकम दोगुनी करने की आड़ में लोगों को चूना लगाने वाले नटवर लाल समेत उसके साथियों की धरपकड़ को संभावित स्थानों पर दबिश दी जा रही हैं, जिन्हें बहुत जल्द गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

-पवन कुमार, पुलिस क्षेत्राधिकारी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.