top menutop menutop menu

बच्ची से हैवानियत : ताबड़तोड़ दबिश दे रही पुलिस की टीमें, दरिंदे के गिरेवां से खाकी अब भी दूर

हापुड़ [गौरव भारद्वाज]। मासूम बच्ची से दरिंदगी के मामले में आरोपित की गिरफ्तारी न हो पाना पुलिस के लिए सिरदर्द बनता जा रहा है। मामले में पुलिस ने रविवार को भी गढ़मुक्तेश्वर और गजरौला क्षेत्र में आरोपित की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश दीं और दो दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। खबर लिखे जाने तक मुख्य आरोपित को पुलिस पकड़ नहीं पाई थी। हालांकि, पुलिस अफसर दावा कर रहे हैं कि आरोपित के बारे में अहम सुराग मिल गए हैं। जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। वहीं, हर वर्ग के लोगों में पुलिस के खिलाफ आक्रोश पनप रहा है।

दिल दहलाने वाली है घटना

दिल-दहलाने वाली खौफनाक घटना के कारण गढ़ खादर क्षेत्र के एक गांव की निवासी छह वर्षीय मासूम पीड़ित बच्ची मेरठ मेडिकल कॉलेज में जिंदगी के लिए संघर्ष कर रही है। जिसे इस हाल में पहुंचाने वाला दरिंदा पुलिस की नाकामी के चलते अब भी पकड़ से दूर है। शनिवार शाम पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने गढ़मुक्तेश्वर में डेरा डाला। वह देर रात तक आरोपित की तलाश में जुटी टीमों को दिशा-निर्देश देते रहे। पुलिस की टीमों ने शक के आधार पर दो दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

पुलिस को उम्मीद जल्द गिरफ्तार होगा आरोपित 

पुलिस को आरोपित के संबंध में कई अहम सुराग मिले हैं। जो दरिंदे के गिरेवां तक उसे ले जाएंगे। सबूत क्या हैं, अफसर अभी यह नहीं खोल रहे हैं। उन्हें उम्मीद है कि जल्द ही दरिंदा उनकी गिरफ्त में होगा और वह उसे सख्त से सख्त सजा दिलाकर बच्ची को न्याय दिलाने का प्रयास करेंगे। वहीं, घटना का पर्दाफाश करने के लिए कोतवाली क्षेत्र में भारी-भरकम पुलिस बल तैनात कर दिया है। ताकि लोगों में आक्रोश व्याप्त न हो।

छावनी में बदली कोतवाली

कोतवाली परिसर किसी छावनी से कम दिखाई नहीं पड़ रहा है। रविवार को सत्ता और विपक्ष के नेताओं ने पीड़िता के गांव और मेरठ में पीड़ित परिवार से मिलकर आर्थिक समेत हर तरह से मदद का आश्वासन दिया। हालांकि चौथे दिन भी कोई गिरफ्तारी न होने से क्षेत्र के लोगों में आक्रोश पनप रहा है। जो पुलिस अफसरों के लिए सिरदर्द बनता जा रहा है। वहीं बच्ची की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। मेरठ में चिकित्सकों के मुताबिक बच्ची का एक और ऑपरेशन किया जाएगा। वहीं राजनीतिक दलों के नेता कानून व्यवस्था को लेकर मौजूदा सरकार पर हमलावर हो रहे हैं। समाजवादी पार्टी की ओर से पूर्व मंत्री मदन चौहान, बसपा के सांसद कुंवर दानिश अली और कांग्रेस के जिलाध्यक्ष मिथुन त्यागी ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं।

जल्द होगा घटना का पर्दाफाश

छह साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म के मामले का पर्दाफाश करने के लिए गठित टीमें दिन-रात दबिश दे रही हैं। टीमें हर उस संभावित स्थान पर जा रही हैं, जहां आरोपित के हाेने सूचना मिल रही है। हालांकि पूरे मामले में कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं, जिसकी मदद से आरोपित को गिरफ्तार किया जाएगा। इसके बाद उसे सख्त से सख्त सजा दिलाई जाएगी।

सर्वेश मिश्रा, अपर पुलिस अधीक्षक

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.