top menutop menutop menu

पिलखुवा में दमकल केंद्र की जल्द कराई जाएगी स्थापना : आइजी

विशाल गोयल, हापुड़ :

पिलखुवा और धौलाना क्षेत्र के लोगों के लिए अच्छी खबर है। अगर सब कुछ सही रहा तो टैक्सटाइल सिटी पिलखुवा में पांच हजार वर्ग मीटर भूमि पर जल्द ही दमकल केंद्र बनना शुरू हो जाएगा। दशकों से उद्यमी और व्यापारी दमकल केंद्र की मांग करते आ रहे हैं। आइजी विजय प्रकाश ने कहा है कि शासन में वार्ता कर पूरा प्रयास किया जाएगा कि जल्द ही निर्माण कार्य के लिए धनराशि मिल सके। प्रदेश भर में इस समय 96 दमकल केंद्रों का निर्माण कार्य चल रहा है। ब्लाक स्तर पर भी दमकल केंद्र बनवाए जा रहे हैं।

पिलखुवा नगर हैंडलूम नगरी के नाम से विश्व विख्यात है, लेकिन यहां की दुर्दशा का इसी से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि आज तक नगर को दमकल केंद्र नहीं मिल सका है। हापुड़-पिलखुवा विकास प्राधिकरण ने वर्ष 2016 में टेक्सटाइल सिटी में अग्निशमन केंद्र बनाने के लिए पांच हजार वर्ग मीटर जमीन दमकल विभाग को आवंटित की थी। इसके बाद केंद्र की स्थापना के लिए प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा गया था।

जिला स्तर पर फायर स्टेशन द्वारा एक गाड़ी की व्यवस्था अस्थाई तौर पर नगर पालिका परिषद के पीछे की ओर होती है, जिसका आपातकालीन समय पर प्रयोग किया जाता है। इस फायर की गाड़ी पर चौबीस घंटे तीन फायर मैन, एक ड्राईवर, एक हवलदार तैनात रहते हैं, लेकिन भयंकर आग लगने पर हापुड़ एवं गाजियाबाद की मदद लेनी पड़ती है। जब तक दोनों शहरों से दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंचती है, तब तक हालात बद से बदतर हो जाते हैं। नगर में आए दिन फैक्ट्रियों और दुकानों में आग लगने की घटना होती रहती है। दमकल केंद्र के लिए पांच हजार वर्ग मीटर जमीन चिह्नित कर शासन से निर्माण कार्य के लिए धनराशि की मांग की गई थी। निर्माण का जिम्मा पुलिस निर्माण निगम एजेंसी को सौंपा गया है।

----

दो यूनिट का होगा प्रस्तावित फायर स्टेशन

टेक्सटाइल सिटी में प्रस्तावित फायर स्टेशन दो यूनिट का होगा, जिसमें दो फायर गाड़ी, मोटर फायर इंजन, दो हैड कांस्टेबल, दो ड्राईवर, एक मुख्य अधिकारी मौजूद होंगे।

--------------------

क्या कहते हैं आइजी -

पिलखुवा में दमकल केंद्र का प्रस्ताव मिल चुका है। करीब 12 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा गया है। धनराशि के लिए शासन में फाइल लंबित है। शासन में संबंधित अधिकारियों से वार्ता कर प्रयास किया जाएगा कि जल्द से जल्द धनराशि मिल सके। उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में 96 दमकल केंद्रों के भवनों का निर्माण कराया जाएगा। ब्लाक स्तर पर भी दमकल केंद्र बनाए जा रहे हैं। - विजय प्रकाश, आइजी अग्निशमन विभाग

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.