हमीरपुर में श्रम विरोधी नीतियों के विरोध में हड़ताल पर रहे बैंककर्मी

हमीरपुर में श्रम विरोधी नीतियों के विरोध में हड़ताल पर रहे बैंककर्मी

श्रम विरोधी नीतियों के विरोध में हड़ताल पर रहा इंडियन बैंक स्टाफश्रम विरोधी नीतियों के विरोध में हड़ताल पर

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 06:38 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, हमीरपुर : ट्रेड यूनियंस के केंद्रीय संगठनों की अपील पर जिले की एसबीआइ शाखाओं के अलावा अन्य बैंकों के कर्मचारी हड़ताल पर रहे। इसके चलते जिले में 50 करोड़ रुपये का ट्रांजेक्शन बाधित हुआ।

आल इंडिया बैंक इंप्लाइज एसोसिएशन की अपील पर इंडियन बैंक मंडलीय कार्यालय के गेट पर बैंक स्टाफ एसोसिएशन के जिला मंत्री व प्रांतीय सहायक महामंत्री की अगुवाई में बैंक कर्मियों ने तालाबंदी कर श्रम विरोधी नीतियों का विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि, अधिकारियों की ओर से पुलिस बुलाने के बाद कार्यालय का गेट खोल दिया गया।

विरोध प्रदर्शन में इंडियन बैंक स्टाफ एसोसिएशन के जिला मंत्री एवं प्रांतीय सहायक महामंत्री अनुराग पांडेय ने कहा कि केंद्र सरकार की श्रम विरोधी नीतियों के चलते करोड़ों कर्मचारियों को हड़ताल में जाना पड़ रहा है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि सभी कामगार विरोधी श्रम कानूनों को वापस लिया जाए। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का निजीकरण रोका जाए। सरकारी सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों की जबरन समय से पूर्व सेवानिवृत्ति पर कठोर परिपत्र वापसी हो। नई पेंशन योजना को समाप्त करके पुरानी पेंशन योजना बहाली की जाए। बैंकों में कर्मचारियों की पर्याप्त संख्या में भर्ती की जाए। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की स्थिति को सुदृढ़ किया जाए। नियमित बैंकों के कार्यों की आउटसोर्सिग रोकी जाए। बैंकों के लाइसेंस को कारपोरेट घरानों के हाथों में पुन: देने से रोका जाए। इस मौके पर संगठन के जिलाध्यक्ष गगनदीप, कोषाध्यक्ष मोहम्मद आरिफ, ऋषभ शुक्ला, विजय कुमार सिंह, नवनीत मोहन, महेंद्र सिंह, उत्कर्ष, सत्येंद्र कुमार, फूला समेत अन्य लोग मौजूद रहे। एलडीएम आरवीएस राजपूत ने बताया कि हड़ताल से जिले में करीब 50 करोड़ रुपये का ट्रांजेक्शन बाधित हुआ है। राठ में एलआइसी कर्मियों ने की हड़ताल

भारत सरकार की जनविरोधी नीतियों का विरोध करते हुए एलआइसी सहित 4 बैंकों ने गुरुवार को हड़ताल रखी। राष्ट्रव्यापी हड़ताल का फैसला सभी ट्रेड यूनियंस संघ द्वारा लिया गया है। केंद्र सरकार द्वारा एलआईसी के विनिवेश का प्रस्ताव पारित हुआ। इससे एलआइसी के 25-30 फीसद शेयर सरकार बाजार में प्रारंभिक प्रस्ताव के माध्यम से सूचीबद्ध करेगी। हड़ताल में एलआइसी के अलावा पीएनबी, बीओआइ, सेट्रल बैंक और कैनरा बैंक के कर्मचारी शामिल रहे। हड़ताल में विमल कुमार, सत्य प्रकाश गुप्ता, दीपक कनौजिया, अमित कुमार वर्मा, सौरभ, सर्वेश, हिमांशु मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.