दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Gorakhpur Lockdown News: कोरोना कर्फ्यू में सील होगी गोरखपुर की सीमा ? SSP के वायरल आडियो पर पुलिस ने दी यह सफाई

गोरखपुर के एसएसपी का फर्जी आडियो वायरल हुआ है। - प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

Gorakhpur Lockdown News इंटरनेट मीडिया पर वायरल आडियो को गोरखपुर एसएसपी दिनेश कुमार पी का संदेश बताया जा रहा था। शेयर करने वाले बता रहे थे कि एसएसपी ने मातहतों को वायरलेस सेट पर कल से बहुत सख्ती बरतने का निर्देश दिया है। जिले की सीमा सील कर दी जाएगी।

Pradeep SrivastavaFri, 07 May 2021 11:19 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर की सीमा सील करने और कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराने का आडियो गुरुवार की दोपहर में इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने से हड़कंप मच गया। जानकारी होते ही एसएसपी ने खंडन करते हुए आडियो को फर्जी बताया। फर्जी आडियो गोरखपुर का बताकर वायरल करने वाले पर उन्होंने कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

एसएसपी का निर्देश बता किया जा रहा था शेयर

इंटरनेट मीडिया पर वायरल आडियो को गोरखपुर एसएसपी दिनेश कुमार पी का संदेश बताया जा रहा था। शेयर करने वाले बता रहे थे कि एसएसपी ने मातहतों को वायरलेस सेट पर कल से बहुत सख्ती बरतने का निर्देश दिया है।जिले की सीमा सील कर दी जाएगी। कोई भी दो पहिया या चार पहिया वाहन सवार अगर सड़क पर दिखा तो पुलिस कार्रवाई करेगी।

कुछ ही देर में यह आडियो पूरे शहर में फैल गया।एसएसपी को जब इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने इस तरह के निर्देश जारी करने से इंकार करते हुए आडियो को फर्जी बताया। एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि आडियो में आवाज उनकी नहीं है। यह आडियो किसी दूसरे जगह का है।फर्जी आडियो वायरल करने वाले के खिलाफ साइबर सेल कार्रवाई करेगी।

पंजाब के शूटरों को बरेली से गोरखपुर लाएगी पुलिस

भाजपा नेता व गुलरिहा थाना क्षेत्र के नारायणपुर के पूर्व प्रधान बृजेश सिंह की हत्या में वांछित शूटर सतनाम सिंह व उसके साथी राजवीर निवासी तरनतारन रोड दविंद्रनगर अमृतसर पंजाब को बुधवार रात बरेली पुलिस मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपितों को गोरखपुर पुलिस, गोरखपुर लाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए जल्द ही बरेली के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी न्यायालय में वारंट बी पुलिस दाखिल करेगी।

शातिर अपराधी सतनाम व राजवीर मूलरूप से लखीमपुर खीरी जिले के मूल निवासी हैं। दोनों लंबे समय से अमृतसर के दविंद्रनगर में रह रहे थे।

सतनाम को करीब 20 दिन पूर्व गोरखपुर की क्राइम ब्रांच की पुलिस ने पंजाब के फतेहगढ़ साहब से पकड़कर पंजाब की स्पेशल इंवेस्टिगेशन एजेंसी को सौंप दिया था। लेकन वह पंजाब पुलिस को चकमा देकर भाग निकला था। बुधवार रात बरेली पुलिस ने दोनों आरोपितों को एक मुठभेड़ में धर दबोचा। गोरखपुर पुलिस का मानना है कि सतनाम व राजवीर ने कई बड़े अपराध किए हैं। दोनों ने यहां हत्या की घटना को अंजाम दिया है। ऐसे में दोनों को गोरखपुर लाने के लिए सीजेएम कोर्ट में वारंट बी दाखिल किया जाएगा।

दोनों पर घोषित है 50-50 हजार रुपये का ईनाम

बीते 17 अप्रैल को डीआईजी प्रीतिंदर सिंह ने दोनों शूटरों पर 50-50 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया था।

यह हुई थी घटना

बीते दो अप्रैल की रात गुलरिहा के नारायनपुर गांव के पूर्व प्रधान व बीजेपी नेता बृजेश सिंह की हत्या हो गई थी। शाहपुर व क्राइम ब्रांच की टीम घटना में शामिल पांच साजिशकर्ताओं को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.