हेलमेट न पहनना दो किशोरों को पड़ा भारी, हादसे में चली गई जान Gorakhpur News

चारपहिया वाहन ने बाइक सवार किशोरों को रौंद दिया। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

सिद्धार्थनगर जिले में डुमरियागंज- रुधौली मार्ग पर अज्ञात चौपहिया वाहन ने सेवई खाकर लौट रहे दो किशोरों को रौंद दिया। एक की मौके पर ही मौत हो गई। दूसरे को जिला अस्पताल बस्ती के लिए रेफर किया गया जहां पहुंचते ही उसने भी दम तोड़ दिया।

Rahul SrivastavaSat, 15 May 2021 08:10 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन : सिद्धार्थनगर जिले में डुमरियागंज- रुधौली मार्ग पर अज्ञात चारपहिया वाहन ने सेवई खाकर लौट रहे दो किशोरों को रौंद दिया। एक की मौके पर ही मौत हो गई। दूसरे को जिला अस्पताल बस्ती के लिए रेफर किया गया, जहां पहुंचते ही उसने भी दम तोड़ दिया। अचानक हुई घटना से स्वजन स्‍तब्‍ध हो गए। दोनों किशोर हेलमेट नहीं पहने थे। हेलमेट पहने होते तो जान बच सकती थी।

परसा इमाइ गांव जा रहे थे ईद की सेवई खाने

इमरान पुत्र अब्दुल कासिम निवासी भारतभारी व अरमान पुत्र नुरुलहुदा निवासी तिघरा घाट वर्तमान निवास भारत भारी बाइक से परसा इमाद गांव में ईद की सेवई खाने गए थे। वहां से लौटते समय अमौना- परसा के बीच तेज रफ्तार आ रही गाड़ी रुधौली की तरफ जाती बताई जा रही है। इन लोगों को दुर्घटनाग्रस्त करते हुए तेजी से निकल गई। दुर्घटना में अरमान की मौके पर मौत हो गई, जबकि इमरान को काफी चोटें आई। सूचना पर पहुंचे स्वजन उसे आनन-फानन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेवां ले गए, जहां डाक्टरों ने स्थिति नाजुक देखते हुए बस्ती जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जिला अस्पताल पहुंचने पर डाक्टर ने उसे भी मृत घोषित कर दिया। क्षेत्र में त्योहार के दिन हुई इस दुर्घटना से लोग मर्माहत हैं।

चुनावी रंजिश में खूनी संघर्ष, छुट्टी पर आए सिपाही सहित चार घायल

बांसी कोतवाली क्षेत्र के मिठवल चौराहे पर चुनावी रंजिश को लेकर दो पक्ष में जमकर बवाल हुआ। इसमें छुट्टी पर आए सिपाही समेत चार लोग बुरी तरह घायल हो गए। काफी देर चली गहमागहमी के बाद पुलिस पहुंची और दोनों पक्षों को थाने ले आई। पीड़‍ित पक्ष की तहरीर पर नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य समेत 14 लोगों पर  मुकदमा पंजीकृत किया गया है। घायलों का उपचार  जिला अस्पताल में चल रहा है।

मुख्‍य आरक्षी छुट्टी पर आए थे घर

पथरा थाना क्षेत्र के ग्राम भतिजवापुर निवासी प्रदीप मिश्र करमैनी चौकी पर मुख्य आरक्षी पद तैनात हैं। वह छुट्टी पर घर आए थे। बांसी से दवा लेकर बाइक से घर लौट रहे थे। मिठवल चौराहा स्थित राम मिलन चौरसिया इंटर कालेज के सामने गांव के दूसरे गुट के लोग मौजूद थे। आमने-सामने पड़ने पर चुनावी कटुता के कारण एक-दूसरे से कहासुनी होने लगी। बात गालीगलौच और मारपीट तक पहुंच गई। प्रदीप अकेले थे, इसलिए दूसरे गुट के लोगों ने हमला बोल दिया, जिससे उनके सिर में गंभीर चोट आ गई। चौराहे पर मौजूद उनके पिता परमात्मा मिश्र व भाई नवीन कुमार मिश्र भी पहुंच गए। लाठी-डंडा व राड से उनपर भी हमला हुआ, जिससे वह भी लहूलुहान हो गए। जान बचाने के लिए यह लोग भाग कर बगल के अशोक पांडेय की दुकान में घुस गये तो हमलावर वहां भी घुस गये और मारा पीटा। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.