गोरखपुर में करंट की चपेट में आने से किशोर समेत दो की मौत

परमदेव मिश्र का मकान बन रहा है। यहां महराजगंज जिले के सिसवा बाजार चैनपुर निवासी 35 वर्षीय ओमकार मौर्य काम कर रहा था। आंगन में ईंट बिछाई जा रही थी। इस दौरान ओमकार का हाथ टुल्लू पंप से छू गया। उस समय पंप में करंट प्रवाहित हो रहा था।

Satish Chand ShuklaWed, 28 Jul 2021 05:07 PM (IST)
करंट से मौत के मामले में बिजली विभाग का प्रतीकात्‍मक फाइल फोटो, जेएनएन।

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। शाहपुर और पिपराइच क्षेत्र में करंट की चपेट में आने से किशोर और श्रमिक की मौत हो गई। शाहपुर थाना क्षेत्र के सैनिक कुंज बचपन स्कूल के पास देवरिया के बरहज निवासी परमदेव मिश्र का मकान बन रहा है। यहां महराजगंज जिले के सिसवा बाजार चैनपुर निवासी 35 वर्षीय ओमकार मौर्य काम कर रहा था। आंगन में ईंट बिछाई जा रही थी। इस दौरान ओमकार का हाथ टुल्लू पंप से छू गया। उस समय पंप में करंट प्रवाहित हो रहा था। ओमकार की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे शाहपुर इंस्पेक्टर आनंद प्रकाश, चौकी प्रभारी झरना टोला अशोक यादव ने स्वजन को जानकारी दी। उधर, पिपराइच थाना क्षेत्र के ग्राम नइयापार के करमहां टोला निवासी 13 वर्षीय किशन पुत्र प्रभु को सरिया काटने वाली मशीन का टूटा तार जोड़ रहा था। इसी बीच वह करंट की चपेट में आ गया। प्रभु राजगीर मिस्त्री हैं। किशन उनका इकलौता बेटा था।

बुजुर्ग लापता, नदी में छलांग लगाने की आशंका

पीपीगंज क्षेत्र के रामकिशुन साहनी सोमवार से लापता है। चर्चा है कि उन्होंने सहजनवां इलाके में स्थित सिसई पुल से राप्ती नदी में छलांग लगा दी है। परिवार के लोगों ने पुलिस को तहरीर देकर उनकी तलाश कराने की मांग की है। परिवार के लोगों के मुताबिक सोमवार को दोपहर में रामकिशुन बिना किसी को कुछ बताए घर से निकले थे। इसके बाद से उनका पता नहीं चल रहा था। रामकिशुन का नाती मुकेश साहनी, तीन दोस्तों के साथ उन्हें तलाश करते हुए मंगलवार को सिसई पुल के पास पहुंचा। इस दौरान उसकी मुलाकात पुल के पास के एक दुकानदार से हुई। मुकेश के मुताबिक बातचीत के दौरान दुकानदार ने सोमवार की देर शाम एक बुजुर्ग को पुल से नदी में छलांग लगाते देखा था। दुकानदार ने उस व्यक्ति का जो हुलिया बताया है, वह रामकिशुन से मिलता-जुलता है। मुकेश पुल पर गया तो उसे वहां रामकिशुन का गमछा गिरा हुआ मिला। बाद में दोस्तों के साथ वह नदी के किनारे-किनारे तीन-चार किलोमीटर तक गया लेकिन बुजुर्ग का पता नहीं चला। मंगलवार को देर शाम उसने पीपीगंज थाने पहुंचकर नाना के लापता होने की तहरीर दी।

सड़क हादसे में युवक की मौत

सहजनवां इलाके में थरुवापार-मचही पुल के पास तेज रफ्तार कार की चपेट में आने से घायल शिवलाल की मौत हो गई। वह गांव पर परचून की दुकान चलाते थे और भाजपा से जुड़े थे। सेहुड़ा गांव निवासी शिवलाल, बेटी के साथ घर से सहजनवां जा रहे थे। थरुवापार पुल के पास सड़क पार करते तेज रफ्तार कार की चपेट में आ गए। इस हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे। स्थानीय लोगों ने उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ठर्रापार में भर्ती कराया था। वहां से डाक्टरों ने उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया था। परिवार के लोग उन्हें जिला अस्पताल ले जाने की बजाय निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां रात में उन्होंने दम तोड़ दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.