एमएमएमयूटी में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन, प्रौद्योगिकी से संभव है ज्यादातर समस्याओं का समाधान Gorakhpur News

एमएमएमयूटी में हुआ दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन। जागरण

मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के आर्यभट्ट सभागार में आयोजित सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के निदेशक प्रो. राजीव त्रिपाठी ने कहा कि आज के समय की ज्यादातर समस्याओं का समाधान प्रौद्योगिकी से संंभव है।

Rahul SrivastavaMon, 22 Mar 2021 10:25 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन : मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के इलेक्ट्रानिक एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग विभाग की ओर से 'वीएलएसआइ, माइक्रोवेव एंड वायरलेस टेक्नोलाजी विषय पर दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन की शुरुआत हुई। विश्वविद्यालय के आर्यभट्ट सभागार में आयोजित सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के निदेशक प्रो. राजीव त्रिपाठी ने कहा कि आज के समय की ज्यादातर समस्याओं का समाधान प्रौद्योगिकी से संंभव है। ऐसे में शोधार्थियों को लगातार नई तकनीक से मनुष्य के जीवन को सरल और सुगम बनाने की दिशा में प्रयासरत रहना होगा।

शोध संबंधी समस्‍या के समाधान में न करें किसी तरह का समझौता

प्रो. त्रिपाठी ने शोधार्थियों से अपील की कि वह शोध संबंधी किसी समस्या के समाधान में किसी तरह का समझौता न करें। उन्होंने शोधार्थियों को शोध नैतिकता के पालन की नसीहत दी। कुलपति प्रो. जेपी पांडेय ने कहा कि व्यक्ति के जीवन को आसान बनाने में संचार प्रौद्योगिकी सबसे अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने इस प्रौद्योगिकी पर शोध कर रहे शोधार्थियों से कहा कि नई प्रौद्योगिकी विकसित करने में कीमत का ध्यान जरूर रखें। प्रौद्योगिकी पर आधारित अधिक कीमत वाले सामानों की पहुंच आम आदमी तक नहीं हो पाती। सम्मेलन में आयोजक विभाग के अध्यक्ष प्रो. आरके चौहान और इलाहाबाद विश्वविद्यालय के इंस्टीट्यूट आफ अप्लाइड फिजिक्स एंड टेक्नोलाजी विभाग के अध्यक्ष प्रो. राजीव सिंह ने भी संबोधित किया। डा. धर्मेंद्र कुमार और डा. बृजेश मिश्र ने सम्मेलन का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया। संचालन स्वर्णिमा दीक्षित और आभार ज्ञापन डा. बी पांडेय ने किया।

सतत परिश्रम से आगे बढ़ने की प्रेरणा दी

सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुंड में छात्राओं के शुभाशीष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान बतौर मुख्य अतिथि जिला महिला अस्पताल की सीनियर असिस्टेंट सुमित्रा गौड़ ने छात्राओं को सतत परिश्रम करते हुए आगे बढऩे की प्रेरणा दी। प्रधानाचार्य डा.सरोज तिवारी ने परीक्षा में सफलता के मूलमंत्र एवं व्यावहारिक जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर गोरखपुर विवि के अवकाश प्राप्त प्रशासनिक अधिकारी राजेश कुमार श्रीवास्तव तथा रश्मि श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.