दो अरब रुपये से बदलेगी गोरखपुर की सूरत, शहर में बनेंगे दो नए फ्लाईओवर

गोरखपुर में पौने दो अरब के विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण 25 दिनों के भीतर होगा। अक्टूबर के पहले सप्ताह के अंदर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने हाथों से विकास कार्यों को गति देंगे। नगर निगम प्रशासन आयोजन की तैयारी में जुट गया है।

Pradeep SrivastavaTue, 14 Sep 2021 01:12 PM (IST)
गोरखपुर में दो नए एक्‍सपेस वे बनाने की तैयारी चल रही है। - प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। नगर निगम क्षेत्र में पौने दो अरब के विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण 25 दिनों के भीतर होगा। अक्टूबर के पहले सप्ताह के अंदर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने हाथों से विकास कार्यों को गति देंगे। नगर निगम प्रशासन आयोजन की तैयारी में जुट गया है।

सीएम के हाथों होगा विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण

बारिश के कारण शहर की कई सड़कें खराब हो गई हैं तो कई में गड्ढे हो गए हैं। नालियां भी कई जगह टूट गई हैं। जलभराव के बाद कई इलाकों में नाले व नालियों की जरूरत महसूस की गई थी। इसे देखते हुए नगर निगम प्रशासन ने पहले ही पार्षदों से विकास कार्यों का प्रस्ताव मांगा था। साथ ही अभियंताओं को सर्वे कर जरूरी कार्यों का पूरा प्रस्ताव देने को कहा था।

नगर निगम प्रशासन आयोजन की तैयारी में जुटा

नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने बताया कि महेसरा में 11 करोड़ 43 लाख 42 हजार रुपये की लागत से इलेक्ट्रिक बस चार्जिंग स्टेशन और डिपो का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। 20 सितंबर तक कार्यों को पूरा करने की अंतिम तिथि तय की गई है। अफसरों को उम्मीद है कि जल्द ही सभी कार्य पूरे करा लिए जाएंगे। राज्य स्मार्ट सिटी में शामिल गोरखपुर में इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आइटीएमएस) के कार्य शुरू हो गए हैं। नगर निगम के जोन पांच के कार्यालय भवन का राप्तीनगर स्थित डाक्टर्स एन्क्लेव में भूमि पूजन भी जल्द कराया जाएगा।

जलभराव वाले इलाकों पर ज्यादा फोकस

नगर आयुक्त ने बताया कि जलभराव वाले इलाकों पर अब ज्यादा फोकस किया जाएगा। इन इलाकों में जलनिकासी के इंतजाम के साथ ही सड़क व नालियों की व्यवस्था को सुदृढ़ किया जाएगा। लिडार सर्वे के आधार पर कार्य कराए जाएंगे। इससे भविष्य में कोई समस्या नहीं आएगी। सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए मशीनों की संख्या बढ़ाने पर भी विचार चल रहा है।

ट्रांसपोर्टनगर से रुस्तमपुर एवं खजांची पर होगा फ्लाईओवर का निर्माण

गोरखपुर शहर में जाम की समस्या दूर करने के लिए जल्द ही ट्रांसपोर्टनगर से रुस्तमपुर एवं मेडिकल रोड पर खजांची चौराहे पर फ्लाईओवर बनाया जाएगा। दोनों फ्लाईओवर पर करीब 284 करोड़ रुपये का खर्च आएगा और इसके लिए सेतु निगम की ओर से प्रस्ताव शासन को भेज दिया गया है। ट्रांसपोर्टनगर से लेकर रुस्तमपुर तक बनने वाले शहर के पहले फ्लाईओवर की लंबाई 2.617 किमी होगी। नौसढ़ से पैडलेगंज के बीच ट्रांसपोर्टनगर, फलमंडी एवं रुस्तमपुर में काफी जाम लगता है। इसे देखते हुए सड़क को पहले से ही सिक्सलेन बनाया जा रहा है। यहां फ्लाईओवर बनाए जाने से आवागमन और आसान हो सकेगा। थ्री लेन के इस फ्लाई ओवर के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा जा चुका है। ट्रांसपोर्टनगर में प्रस्तावित मेट्रो स्टेशन के पास ही फ्लाईओवर खत्म होगा।

खजांची चौक पर भी जाम से म‍िलेगी मुक्‍त‍ि

इसी तरह असुरन-मेडिकल रोड के खजांची चौराहे पर काफी जाम लगता है। मेडिकल रोड फोरलेन हो चुका है और जेल बाईपास रोड भी फोरलेन हो रहा है। खाद कारखाना के शुरू होने से भी यहां यातायात का लोड और बढ़ेगा। लोगों की सुविधा के लिए यहां 110 करोड़ रुपये की लागत से करीब एक किमी लंबा फ्लाईओवर बनाया जाएगा। वित्तीय मंजूरी के लिए अगस्त महीने में पत्र भी भेजा गया है। यह फ्लाईओवर खजांची के आगे स्थित मंदिर के ऊपर से होकर स्पोट्र्स कालेज के पास उतरेगा। सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक एके स‍िंह ने बताया कि शहर में प्रवेश करते समय जाम से न जूझना पड़े, इसके लिए दो फ्लाईओवर बनाने का प्रस्ताव भेज दिया गया है। जल्द ही शासन से वित्तीय मंजूरी मिलने की उम्मीद है। परियोजना प्रबंधक ने बताया कि मंजूरी मिलने के बाद दोनों स्थानों पर फ्लाईओवर का निर्माण शुरू कर दिया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.