गोरखपुर में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के ल‍िए बनाए गए तीन मंच, पीएम के साथ मंच पर इन 40 वीआइपी को म‍िली जगह

PM Modi to visit Gorakhpur today प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ मुख्य मंच पर करीब 40 से अधिक लोग मौजूद रहेंगे। सोमवार की शाम को मुख्य मंच पर उपस्थित रहने वाले लोगों की सूची को अंतिम रूप दे दिया गया है।

Pradeep SrivastavaTue, 07 Dec 2021 07:30 AM (IST)
गोरखपुर में पीएम मोदी की सभा को लेकर लगाई गई कुर्सियां। - जागरण

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। PM Modi to visit Gorakhpur today: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ मुख्य मंच पर करीब 40 से अधिक लोग मौजूद रहेंगे। सोमवार की शाम को मुख्य मंच पर उपस्थित रहने वाले लोगों की सूची को अंतिम रूप दे दिया गया है। प्रधानमंत्री के साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा एवं केशव प्रसाद मौर्य उपस्थित रहे।

तीन मंच बनाए गए

लोकार्पण कार्यक्रम के लिए तीन मंच बनाए गए थे। एक मुख्य मंच होगा, जिसपर प्रधानमंत्री मौजूद रहेंगे। उसके बगल में एक महत्वपूर्ण व्यक्तियों के लिए मंच होगा और दूसरी ओर सांस्कृतिक मंच बनाया गया है। प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री के अलावा मुख्य मंच पर केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी, प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप सिंह, बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डा. सतीश द्विवेदी, मत्स्य, पशुधन एवं दुग्ध विकास राज्यमंत्री जयप्रकाश निषाद, कृषि विपणन एवं उद्यान राज्यमंत्री श्रीराम सिंह चौहान, महापौर सीताराम जायसवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष साधना सिंह, गोरखपुर एवं बस्ती मंडल के सभी सांसद, गोरखपुर जिले के सभी विधायक के साथ भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय निषाद भी मंच पर होंगे। गोरखपुर-बस्ती मंडल के अन्य जिलों के सभी विधायक, विधान परिषद सदस्य, भाजपा के महत्वपूर्ण पदाधिकारी बगल के वीआइपी मंच पर मौजूद रहेंगे।

एयरपोर्ट पर राज्यपाल और मुख्यमंत्री करेंगे मोदी का स्वागत

फर्टिलाइजर कारखाना और एम्स का लोकार्पण करने मंगलवार को गोरखपुर आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र का शहर में तीन स्तर पर स्वागत किया जाएगा और विदाई दी जाएगी। यह तीन स्थल होंगे, एयरपोर्ट, कारखाना परिसर स्थित हेलीपैड और मंच के पीछे। इसके लिए बाकायदा स्वागत करने और विदाई देने वालों की सूची तैयार की गई है। इस सूची में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह सहित 171 लोग शामिल हैं।

यह लोग भी एयरपोर्ट पर करेंगे मोदी का स्‍वागत

एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री का स्वागत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पूर्वांचल विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष नरेंद्र सिंह, देवेंद्र पाल सिंह, रणंजय सिंह जुगनू, सिद्धार्थ पाण्डेय सहित 24 भाजपा पदाधिकारी करेंगे। हेलीपैड पर स्वागत की जिम्मेदारी भाजपा के महानगर उपाध्यक्ष दयानंद शर्मा, शशिकांत शर्मा, बृजेश मणि मिश्र, रणविजय शाही समेत 30 लोगों की टीम करेगी। तीसरा स्वागत मंच के पीछे होगा, जहां भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल, राष्ट्रीय मंत्री अरविंद मेनन, महापौर सीताराम जायसवाल सहित 38 पार्टी पदाधिकारी मौजूद रहेंगे। मंच के पीछे विदाई देने वाली टीम में क्षेत्रीय उपाध्यक्ष पीएम पाठक, साकेत सिंह सोनू, छठ्ठेलाल निगम, संजीव राय समेत 38 पदाधिकारी होंगे। हेलीपैड पर महानगर उपाध्यक्ष वीरेंद्र नाथ पाण्डेय, रमेश प्रताप गुप्ता, जितेंद्र चौधरी जीतू, पदमा गुप्ता आदि विदाई देंगे।। एयरपोर्ट पर विदाई देने वालों में पूर्व महानगर अध्यक्ष राधेश्याम सिंह, राजीव रंजन अग्रवाल, अनूप किशोर अग्रवाल, संतोष गोयल एवं राजा त्रिपाठी आदि शामिल रहेंगे।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों से होगा प्रधानमंत्री का स्वागत

खाद कारखाना परिसर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत सांस्कृतिक कार्यक्रमों से किया जाएगा। इन सांस्कृतिक कार्यक्रमों में बुंदेलखंड से लेकर पूर्वांचल की संस्कृति व परंपरा नजर आएगी। हेलीपैड पर उतरने के बाद प्रधानमंत्री जैसे ही आगे बढ़ेंगे एसएसबी मैदान में तीन टीमें अलग-अलग परंपराओं पर आधारित नृत्य प्रस्तुत करते हुए उनका स्वागत करेंगी। उसके बाद मुख्य प्रवेश द्वार के पास भी सांस्कृतिक टीमों को लगाया गया है। हेलीपैड से मुख्य मंच तक करीब 500 मीटर की दूरी में छह टीमों को लगाया गया है। मुख्य मंच के बगल में बने सांस्कृतिक मंच पर भी पांच टीमें सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगी।

इसके साथ ही लोकार्पण कार्यक्रम में आने वाले लोगों के मनोरंजन के लिए भी टीमों को लगाया गया है। बरगदवा एवं मेडिकल कालेज रोड से आने पर पार्किंग स्थल के बाद से जगह-जगह मौजूद टीमें सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति करेंगी। इन टीमों को संस्कृति विभाग की ओर से बुलाया गया है। उप निदेशक राजकीय बौद्ध संग्रहालय एवं संस्कृति विष्भाग के नोडल अधिकारी डा. मनोज कुमार गाैतम ने बताया कि कुल 16 टीमों को बुलाया गया है। ये टीमें झांसी, आजमगढ़, गाजीपुर, अयोध्या, गोरखपुर आदि जिलों से आयी हैं। इन टीमों की ओर से राई नृत्य, मयूर नृत्य, फरुआही, डांडिया एवं धोबिया नृत्य की प्रस्तुति के बाद लोक गायन भी प्रस्तुत किया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.