बारिश से बिगड़े हालात, सरकारी दफ्तरों व घरों में घुसा पानी

बारिश से बिगड़े हालात, सरकारी दफ्तरों व घरों में घुसा पानी
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 11:20 PM (IST) Author: Jagran

देवरिया, जेएनएन। जिले में लगातार तीन दिन से हो रही मूसलधार बारिश से बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। शहर की कोई गली या मोहल्ला नहीं है जहां जलभराव न हो। मुख्य सड़कों पर घुटने भर पानी भरा हुआ है। सरकारी दफ्तरों में भी पानी घुस गया है। कई कार्यालयों में फाइलें तक भीग गई।

ऐसे में आवागमन तो दूर लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है। लोगों का कहना है कि इस तरह की बारिश से करीब तीन दशक पहले हुई थी। इस बार तो सभी रिकॉर्ड टूट गए।

कलेक्ट्रेट व एसपी कार्यालय में घुटने तक पानी

कलेक्ट्रेट के अलावा एसपी कार्यालय जिला अस्पताल रोड, पोस्टमार्टम हाउस, वन स्टाप कार्यालय, सिचाई विभाग कार्यालय, बाढ़ विभाग कार्यालय में पानी घुस गया है। कोतवाली में पानी घुसने से शस्त्र व अभिलेख भीग गए हैं। कलेक्ट्रेट के अभिलेखागार में पानी घुसने से अभिलेख खराब हो रहे हैं। जिला अस्पताल में जल भराव से दवाएं भींग रहीं हैं। परिसर में पानी भरने से मरीजों को आवागमन में काफी परेशानी उठानी पड़ी। पुलिस लाइन व यहां स्थित कार्यालयों में भी पानी घुस गया है। डीएम एसपी के आवास में भी घुटने भर पानी भरा है। महिला अस्पताल के आपरेशन थियेटर में पानी भर गया है। अस्पताल परिसर पानी से लबालब है। शहर के सभी नाले उफान पर

शहर के सभी नाले उफना गए हैं। सिविल लाइन्स रोड की दुकानों में घुटने भर पानी घुस गया है। दुकानों में रखी दवाएं व किराना के सामान भींग कर खराब होने से दुकानदारों की काफी नुकसान हुआ है। बस स्टेशन के सामने जिला अस्पताल रोड, पीडब्लूडी मार्ग से होकर आगे बढ़ने में काफी कठिनाई हो रही है।

बंद किया गया मार्ग

जल जमाव के कारण पुराने पोस्टमार्टम हाउस से सिविल लाइन्स रोड की तरफ जाने वाली सड़क पर आवागमन बंद कर दिया गया है। लोग कोतवाली रोड समेत अन्य मार्गों से घूम कर लोग सिविल लाइन्स रोड पर पहुंच रहे हैं। अलावा राघव नगर के प्रमुख मार्गों, डीएम आवास के पीछे की कालोनी के घरों में भी पानी घुस गया है।

फसल को हुई काफी क्षति

ग्रामीण क्षेत्रों में भी धान की फसलों को काफी क्षति पहुंची है। लगातार बारिश से धान के फूल झड़ गए हैं ऐसे में धान के उत्पादन पर इसका काफी प्रभाव पड़ेगा। तेज हवा की वजह से धान की फसल खेत में ही गिर गई है। इस बार बेहतर पैदावार की उम्मीद लगाए किसानों को काफी निराशा हुई है। घुसरी मिश्र गांव निवासी किसान प्रकाश मिश्र ने कोल्हुआ के समीप एक एकड़ जमीन में पपीते की खेती की है। बारिश व हवा के कारण पपीते के पेड़ गिर गए हैं। जिससे उनको काफी क्षति हुई है।

पूरा दिन परेशान रहा प्रशासन

शहर में चारो तरफ पानी भरने से प्रशासनिक अधिकारी व कर्मचारी परेशानी रहे। डीएम अमित किशोर, नगर पालिका अध्यक्ष अलका सिंह, ईओ सत्य प्रकाश सिंह समेत अन्य अधिकारी सरकारी कार्यालयों से पानी निकलवाने के लिए परेशान रहे। डीएम सिविल लाइन्स रोड पर स्थित मुख्य नाले की सफाई कराने का प्रयास करते दिखे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.