बारिश ने बढ़ाई लोगों की समस्या

बारिश ने बढ़ाई लोगों की समस्या
Publish Date:Sat, 26 Sep 2020 06:20 PM (IST) Author: Jagran

संत कबीरनगर, जेएनएन : मंगलवार की शाम से शुरू हुई बारिश जब बुधवार तक जारी रही तो किसानों ने इसकी बूंदों को धान की खेती के लिए अमृत बताया। बुधवार की रात से लेकर शुक्रवार की सुबह तक मूसलाधार बारिश का सिलसिला जारी रहा। यह सबके लिए आफत का कारण बन गया।

महुली थानाक्षेत्र के ग्राम घोरहट स्थित पेट्रोल पंप के सामने सड़क पर पीपल का एक विशाल पेड़ सुबह गिर गया। लगभग तीन घंटे आवागमन बाधित रहा। 11 बजे आवागमन बहाल हुआ। इसी क्रम में सांथा ब्लाक के जमया गांव के सामने गुरुवार की रात लगभग आठ बजे तेज हवा के साथ सड़क पर एक पेड़ गिर गया। इसे अब तक नहीं हटाया जा सका है। क्षेत्रीय निवासियों की शिकायत पर एसडीएम अजय कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सड़क पर गिरे पेड़ को हटवाने के लिए लेखपाल व धर्मसिंहवा पुलिस को निर्देशित किया गया है।

---------

ढह गया घर

बखिरा प्रतिनिधि के अनुसार बघौली ब्लाक के बूंदीपार निवासी पूर्णमासी का कच्चा मकान गुरुवार की रात लगभग दस बजे ध्वस्त हो गया। घर गिरने से गृहस्थी का सारा सामान उसमें दब गया है।

धनघटा क्षेत्र में तेज हवा और बारिश से सिरसी में तीन लोगों के खपरैल के मकान गिर गए। गांव निवासी गौरी शंकर, देवीशंकर व दिनेश का मकान गिर जाने से यह लोग बेघर हो गए। घर में रखा सारा सामान मकान के मलबे में दब गया। तहसीलदार वंदना पांडेय का कहना है कि घर गिरने की सूचना है। लेखपाल से सर्वे करवाकर मुआवजे की व्यवस्था करवाई जाएगी।

-----------------

खेत में गिरने लगी धान की फसल क्या करें

अगैती किस्म के धान की फसलों की बालियां फूटकर पक रही थीं। बारिश होने से एक दिन तो सभी को बूंदे अमृत समान दिखीं परंतु हद हुई तो यह फसलों के लिए विष बन गई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.