संतकबीर नगर में महिला को बचाने के लिए नदी में कूद गया युवक, जानिए आगे क्‍या हुआ

बखिरा थाना क्षेत्र के ग्राम पड़रिया स्थित आमी नदी पर बने पुल पर हादसा हो गया। पुल से कूदी एक महिला को बचाने के लिए गया युवक नदी में डूब गया। महिला को तब दूसरे युवकों ने किसी तरह पानी से बाहर निकाला।

Rahul SrivastavaPublish:Sat, 21 Aug 2021 06:15 AM (IST) Updated:Sat, 21 Aug 2021 06:15 AM (IST)
संतकबीर नगर में महिला को बचाने के लिए नदी में कूद गया युवक, जानिए आगे क्‍या हुआ
संतकबीर नगर में महिला को बचाने के लिए नदी में कूद गया युवक, जानिए आगे क्‍या हुआ

गोरखपुर, जागरण संवाददाता : संतकबीर नगर जिले के बखिरा थाना क्षेत्र के ग्राम पड़रिया स्थित आमी नदी पर बने पुल पर हादसा हो गया। पुल से कूदी एक महिला को बचाने के लिए गया युवक नदी में डूब गया। महिला को तब दूसरे युवकों ने किसी तरह पानी से बाहर निकाला। महिला को बचाने गए युवक का पता लगाने की ग्रामीणों ने कोशिश की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग सका। युवक की तलाश के लिए ग्रामीण व पुलिस टीम लगी हुई है।

मंझरिया पठान की महिला कूद गई थी नदी में

मंझरिया पठान निवासिनी 28 वर्षीय महिला दोपहर 12 बजे आमी नदी पर स्थित पुल से कूद गई। युवती को नदी में कूदता देख दुर्गजोत निवासी 24 वर्षीय कयूम उसे बचाने के इरादे से नदी में कूद गया। कयूम ने महिला को बचाने की कोशिश की लकिन वह उसे बचा पाता, इससे पहले ही वह पानी में डूब गया। मौके पर मेंहदावल की तहसीलदार निशा श्रीवास्तव ने पहुंचकर घटना का जायजा लिया। बखिरा थानाध्यक्ष चंदन कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम युवक की तलाश कर रही है, लेकिन नदी के तेज धारा में उसका पता नहीं चला। कुछ उत्साही युवकों ने नदी से कूदी युवती को बचा लिया है। वह सुरक्षित है, लेकिन युवक का देर शाम तक पता नहीं चला। पड़रिया पुल पर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण जुटे हैं।

15 दिन पूर्व हुई थी कयूम की शादी

नदी में डूबे कयूम का निकाह पांच अगस्त को हरदी की तरन्नुम से हुई थी। घटना की जानकारी होने पर पत्नी का रो- रोकर बुरा हाल है। अभी उसके हाथों के मेहंदी का रंग फीका भी नहीं हुआ था कि इस हादसे से वह टूट सी गई है।

गलत रिपोर्ट लगवाकर अवैध निर्माण कराने का आरोप

बखिरा थानाक्षेत्र के हरदी गांव के निवासी मो. याकूब ने एसडीएम-खलीलाबाद को प्रार्थना पत्र दिया है। इसमें उन्होंने यह उल्लेख किया है कि उनके गांव के एक व्यक्ति ने लेखपाल की मिलीभगत से गलत रिपोर्ट लगवा दिया। लेखपाल व स्थानीय थाने के पुलिस कर्मियों के सहयोग से वह व्यक्ति उनकी निजी भूमि पर जबरन अवैध निर्माण कार्य करवा रहा है। बाथरूम की टंकी के ऊपर से दीवार खड़ी कर दी है। विरोध करने पर जानमाल और दलित उत्‍पीड़न में फंसाने की धमकी दे रहा है। पीड़‍ित ने एसडीएम से भूमि की पैमाइश कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की है।