कर्फ्यू में ट्रेन छूट रही थी, पुलिस को फोन किया और दो मिनट में घर पहुंच गई पीआरवी- स्‍टेशन तक छोड़ा

रेलवे स्‍टेशन पर यात्री के साथ पीआरवी टीम। - स्रोत इंटरनेट मीडिया

गोरखपुर पुलिस ने कर्फ्यू के दौरान एक जरूरतमंद का दिल भी जीता है। कर्फ्यू के चलते उन्हें शहर में कोई वाहन ही नहीं मिल रहा था। ऐसे में उन्होंने 112 नंबर पर डायल किया। दो मिनट के भीतर ही उनके पास पीआरवी पहुंच गई और उन्हें तत्काल रेलवे स्टेशन पहुंचाया।

Pradeep SrivastavaMon, 19 Apr 2021 06:50 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर पुलिस ने रविवार को कर्फ्यू के दौरान एक जरूरतमंद बेटे का दिल भी जीता है। वाराणसी के सिगरा थाना क्षेत्र के महमूरगंज निवासी चेतन उपाध्याय पिछले सात दिनों से गोरखपुर के आरोग्य मंदिर में थे। रविवार को अचानक उनके पिता की तबीयत खराब हो गई। कर्फ्यू के चलते उन्हें शहर में कोई वाहन ही नहीं मिल रहा था। ऐसे में उन्होंने 112 नंबर पर डायल किया। दो मिनट के भीतर ही उनके पास पीआरवी 0321 पहुंच गई और उन्हें तत्काल रेलवे स्टेशन पहुंचाया। वाराणसी पहुंचते ही चेतन ने इस घटना को ट्वीटर पर भी साझा किया है और उत्तर प्रदेश पुलिस को धन्यवाद दिया।

पिता की खराब तबीयत को लेकर परेशान थे वाराणसी के चेतन

चंदन अपनी संस्था के जरिये ध्वनि प्रदूषण का विरोध करते हैं। कुछ कार्यों को लेकर वह गोरखपुर आये हुए थे। रविवार को कर्फ्यू के दौरान वह यहीं रह गए। ऐसे में उन्हें फोन पर सूचना मिली कि वाराणसी में उनके पिता की तबीयत खराब है।

आनन-फानन में उन्होंने वाराणसी के लिए ट्रेन का टिकट लिया। दोपहर 1.40 पर गोरखपुर से उनकी ट्रेन थी। लेकिन आरोग्य मंदिर से 5 किलोमीटर दूर रेलवे स्टेशन पहुंचना कठिन था। स्टेशन जाने के लिए उन्होंने वाहन तलाश किया लेकिन कोई वाहन नहीं मिला तो उन्होंने 112 पर फोन करके अपनी समस्या बताई। 

फोन करने के दो मिनट के भीतर पहुंची पीआरवी, पहुंचाया स्टेशन

मात्र दो मिनट के भीतर उनके पास पीआरवी 0321 की टीम पहुंच गई और उन्हें गोरखपुर रेलवे स्टेशन पहुंचाया। समय से स्टेशन पहुंचने के लिए उन्होंने पीआरवी कर्मियों को बहुत-बहुत धन्यवाद दिया है। उन्होंने कहा है कि यदि समय पर पीआरवी टीम न पहुंचती तो उनकी ट्रेन छूट जाती। उन्होंने पीआरवी कमांडर हेड सुरेंद्र प्रसाद, सब कमांडर यशपाल यादव को इसके लिए धन्यवाद दिया है। एसएसपी दिनेश कुमार पी ने पीआरवी जवानों के इस शानदार प्रदर्शन के लिए उनकी पीठ थपथपाई है। उन्होंने कहा कि हर किसी इनसे प्रेरणा लेना चाहिए।

इन नंबरों पर मिल सकती है मदद

1076- उत्तर प्रदेश सीएम हेल्पलाइन नंबर

1090- महिला हेल्पलाइन नंबर

1098- चाइल्ड हेल्प लाइन नंबर

112- आपातकालीन सेवाओं के लिए

102- एम्बुलेंस हेल्पलाइन नंबर

1075- कोरोना हेल्पलाइन नंबर

101- फायरसर्विस के लिए

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.