top menutop menutop menu

महाकाल वाट्सएप ग्रुप में छिपा है चचेरे भाइयों की हत्या का राज Gorakhpur News

गोरखपुर, जेएनएन। झंगहा क्षेत्र के करही बंधे के पास नदी के किनारे चचेरे भाइयों की हत्या किसने और क्यों की, उन्हें घर से बुलाकर ले जाने वाला युवक भी हत्या की साजिश में शामिल है या नहीं? इन सवालों का जवाब तलाशने में पुलिस उलझी हुई है। परिवार के लोगों ने किसी से दुश्मनी होने से इन्कार कर दिया है, इसलिए पुलिस की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। लेकिन, दोनों भाइयों को जानने वालों का मानना है कि उनकी हत्या का रहस्य एक वाट्सएप ग्रुप के सदस्यों की गतिविधियों से जुड़ा हो सकता है। दोनों भाई, महाकाल नाम के वाट्सएप ग्रुप से जुड़े थे। इस ग्रुप से जुड़े लोग इलाके में मारपीट करने के लिए बदनाम हैं। जानने वालों का मानना है कि मारपीट की किसी घटना के प्रतिशोध में दोनों भाइयों की हत्या हुई है।

एक सूचना पर मारपीट के लिए एकत्र हो जाते हैं ग्रुप के सदस्य

महाकाल नाम के वाट्सएप ग्रुप में खोराबार से लेकर झंगहा इलाके के काफी युवक जुड़े हुए हैं। किसी भी सदस्य के ग्रुप में विवाद होने की सूचना डालते ही आसपास मौजूद दूसरे सदस्य कुछ ही देर में एकत्र हो जाते हैँ। अभी कुछ दिन पहले ही झगहा इलाके में इसी ग्रुप के सदस्यों ने एक अधिवक्ता पुत्र को बुरी तरह से पीट दिया था। बताते हैं कि इस मारपीट में दिवाकर भी शामिल था।

दिवाकर के विरुद्ध कई थानों में दर्ज हैं मुकदमें

दो दिसंबर 2019 को झंगहा पुलिस ने दिवाकर को तमंचा और कारतूस के साथ गिरफ्तार किया था। इससे पहले भी झंगहा थाने में उसके विरुद्ध मारपीट का मुकदमा दर्ज है। इसके अलावा खोराबार पुलिस, दिवाकर को दो बार लूट व मारपीट के आरोप में तथा बेलीपार पुलिस चोरी के आरोप में जेल भेज चुकी है।

मोबाइल काल डिटेल खंगालने में जुटी पुलिस

हत्यारों का पता लगाने के लिए पुलिस दोनों भाइयों तथा उन्हें घर से बुलाकर ले जाने वाले युवक के मोबाइल फोन का काल डिटेल और टावर लोकेशन खंगाल रही है। माना जा रहा है कि उनसे बातचीत करने वालों में से ही किसी ने उनकी हत्या की साजिश रची है। फिलहाल यह नहीं स्पष्ट हो सका है कि दोनों भाइयों को घर बुलाकर ले जाने वाला हत्या की साजिश में शामिल है या नहीं?

पेशेवर हत्यारों पर वारदात को अंजाम देने का शक

पुलिस को शक है कि दोहरा हत्याकांड पेशेवर हत्यारों ने अंजाम दिया है। इसकी दो वजह है। एक, वारदात में नाइन एमएम की पिस्टल का इस्तेमाल किया जाना। आमतौर से इस तरह की पिस्टल पेशेवर बदमाश ही रखते हैं। दूसरा, बदमाशों का सटीक निशाना। दिवाकर और कृष्णा को एक-एक गोली मारकर मौत के घाट उतारा गया था। दिवाकर के सिर में और कृष्णा के बाईं तरफ सीने में कंधे से नीचे गोली लगी थी। पुलिस का मानना है कि पेशेवर हत्यारे ही इस तरह से हत्या की वारदात को अंजाम दे सकते हैं।

घर पर मसाला बनाने का काम करता था दिवाकर

दिवाकर के पिता सुदामा निषाद की जंगल बनसप्ती में फर्नीचर की दुकान है। दिवाकर ने घर पर ही सब्जी मसाले का पाउडर बनाने की छोटी सी फैक्ट्री डाल रखी थी। मसाले की पैकिंग कर खुद ही बाजार में बेचता था। उसके साथ मारे गए चचेरे भाई कृष्णा के माता-पिता की मौत हो चुकी है। बड़े भाई के साथ घर पर रहकर वे खेती-बारी का काम करता था। उन्हें घर से बुलाकर ले जाने वाला कुरमौल निवासी मुकेश इंटर तक पढ़ा है। पिछले साल इंटर की परीक्षा पास करने के बाद वह घर पर ही रहता था।

घटनास्थल के पास बंधे पर मिली लावारिस बाइक

घटनास्थल से थोड़ी दूरी पर बंधे से पुलिस ने एक लावारिस बाइक बरामद की है। छानबीन में बाइक, मुकेश की होने का पता चला है। मुकेश ही दोनों भाइयों को घर से बुलाकर ले गया था। माना जा रहा है कि उसी ने चरवाहों को हत्या होने की सूचना दी। इसके बाद फरार हो गया। चरवाहों ने शराब पीने में शामिल दो युवकों को बाइक से गौरी घाट पक्के पुलिस की तरफ भागते हुए देखने की जानकारी दी है। उन्हीं दोनों युवकों पर हत्या करने का शक है।

अनजान व्यक्ति ने परिजनों को दी हत्या की सूचना

चचेरे भाइयों की हत्या के मामले में दिवाकर के पिता ने अज्ञात के विरुद्ध तहरीर दी है। इसमें उन्होंने एक अनजान व्यक्ति के घर आकर दोनों भाइयों की हत्या होने सूचना देने का उल्लेख किया है। इससे पहले मौके पर पहुंचे डीआइजी राजेश मोदक, एसएसपी डा. सुनील गुप्त और अन्य अधिकारियों से बातचीत में दिवाकर के पिता ने किसी से दुश्मनी होने की बात से इन्कार किया है। एसएसपी डा. सुनील गुप्‍त का कहना है कि अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपितों की तलाश की जा रही है। क्राइम ब्रांच को भी लगाया गया है। बहुत जल्दी घटना का पर्दाफाश कर लिया जाएगा।

बांध के किनारे गोली मारकर की गई थी हत्‍या

झंगहा क्षेत्र मेें करहीं बंधे के पास गोर्रा नदी के किनारे चचेरे भाइयों दिवाकर (24) और कृष्णा (25) की रविवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई है। मौके से नाइन एमएम पिस्टल का दो खोखा और एक कारतूस बरामद हुआ है। घटनास्थल पर अंग्रेजी शराब की बोतल, नमकीन, कटा हुआ खीरा और गिलास मिली है। माना जा रहा है कि पीने-पिलाने के दौरान हुए विवाद में उनकी हत्या की गई है। दिन में 12 बजे के आसपास एक युवक, उन्हें घर से बुलाकर ले गया था। करही बंधे पर उसकी बाइक लावारिस दशा में मिली है। युवक की तलाश की जा रही है। उसके पिता को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.