बाढ़ के पानी को बारिश ने फिर बढ़ाया

नगर पालिका के प्रताप नगर वार्ड में 20 दिनों से बाढ़ का पानी जमा है। इधर चार पांच दिन से वह कुछ कम हो रहा था कि बारिश ने उसे फिर से बढ़ा दिया। जिससे वार्ड निवासियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा। रोज उन्हें घुटने भर पानी में घुस कर आना- जाना पड़ता हैं।

JagranSat, 18 Sep 2021 06:15 AM (IST)
बाढ़ के पानी को बारिश ने फिर बढ़ाया

सिद्धार्थनगर : नगर पालिका के प्रताप नगर वार्ड में 20 दिनों से बाढ़ का पानी जमा है। इधर चार पांच दिन से वह कुछ कम हो रहा था कि बारिश ने उसे फिर से बढ़ा दिया। जिससे वार्ड निवासियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा। रोज उन्हें घुटने भर पानी में घुस कर आना- जाना पड़ता हैं। बाढ़ की वजह से नगर पालिका ने ग्रामीणों के आवागमन के लिए ट्रैक्टर -ट्राली लगी थी जो पानी कम होते ही हटा लिया गया।

नदी भले घट रही है पर नगर में उसका सैलाब अभी दिखाई पड़ रहा है। गंगुली गरगजवा बांध पर बनी पुलिया से प्रताप नगर वार्ड में घुसा बाढ़ का पानी इधर कुछ कम होने लगा तो तीन दिनों से हो रही बारिश ने उसे फिर बढ़ा दिया। यह वार्ड बड़ा होने के साथ यहां काफी समृद्धशाली लोग निवास भी करते हैं। इस वार्ड में परिषदीय विद्यालयों में पढ़ाने वाली महिला अध्यापिकाएं भी सौ से अधिक की संख्या में निवास करती हैं। जो पानी में घुस स्कूल आती जाती हैं। करीब 25 दिनों से बच्चे स्कूल भी नही जा रहे। नगर पालिका अध्यक्ष मो. इदरीश पटवारी ने कहा कि इसबार नदी काफी बढ़ गई थी। जिससे पुलिया के रास्ते बाढ़ का पानी वार्ड में घुसा है। हम सिचाई विभाग के वार्ता कर बांध पर बनी पुलिया पर फाटक लगवाने का प्रयास करेंगे। छाए रहेंगे बादल, बारिश की आशंका सिद्धार्थनगर : कृषि विज्ञान केंद्र सोहना के मौसम विशेषज्ञ के अनुसार शनिवार को बादल छाए रहने के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है। बंगाल की खाड़ी से लेकर मध्य प्रदेश और पूर्वी उत्तर प्रदेश तक कम दबाव क्षेत्र बनने के कारण पिछले तीन दिनों में जिले में अच्छी बारिश हो रही थी। लेकिन अब आगे कम दबाव क्षेत्र कमजोर होने के कारण बारिश में कमी आने की संभावना है। अब हवा की गति भी कमजोर पड़ जाएगी। मौसम विभाग नई दिल्ली से वर्चुअल मीटिग में वैज्ञानिकों ने बताया कि 21 सितंबर से मौसम में परिवर्तन होने की संभावना है। जिससे जिले में अच्छी बारिश हो सकती है। मौसम विशेषज्ञ सूर्यप्रकाश सिंह ने बताया कि आगामी पांच दिनों में अधिकतम तापमान 34 से 35 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 22 से 24 डिग्री सेल्सियस तक बना रहेगा। पूर्वा हवा 08 से 16 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से चलने की संभावना है। हवा में अधिकतम आद्रता 94 प्रतिशत तक रहने की संभावना है। मौसम के पूर्वानुमान को ध्यान में रखते हुए कृषि विज्ञान केंद्र, सोहना के कृषि विज्ञानी डा. एसएन सिंह ने किसानों को सब्जियों एवं अन्य फसलों से अनावश्यक पानी को खेत से बाहर निकालने के लिए जल निकास का उचित प्रबंध करने की सलाह दी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.