Mustard Oil Price: काबू में आया सरसों तेल व रिफाइंड का भाव, बीस रुपये तक कम हुआ मूल्य

Mustard Oil Price हाल के दिनों में अचानक बढ़े सरसों तेल और रिफाइंड ने किचन का जायका बिगड़ गया था। दो माह बाद सरसों के मूल्‍य में कमी आई है। इस समय सरसों के तेल एवं रिफाइंड में 10 से 15 रुपये प्रति लीटर और कम हो गया है।

Pradeep SrivastavaSun, 13 Jun 2021 07:05 AM (IST)
सरसों तेल की कीमत में दस से बीस रुपये तक की कमी आई है। - प्रतीकात्मक तस्वीर

गोरखपुर, जेएनएन। Mustard Oil Price: करीब दो माह से आसमान छूने के बाद सरसों तेल व र‍िफाइंड की कीमत काबू में आ गई है। दो माह पहले 90 रुापये से बढ़कर 175 रुपये प्रति लीटर मूल्य होने के बाद इसका थोक मूल्य अब 152 से लेकर 158 रुपये के बीच आ गया है। उम्‍मीद की जा रही है क‍ि आने वाले दिनों में इसकी कीमत और कम होगी।

मई में 185 रुपये लीटर पहुंच गया था मूल्य

हाल के दिनों में अचानक बढ़े सरसों तेल और रिफाइंड ने किचन का जायका बिगड़ गया था। कीमत कम होेने की वजह से लोगों को आंशिक राहत मिली है। महंगाई के कारण जहां घरों में छह लीटर खपत होती थी, वहां तीन से चार लीटर में काम चलाया जा रहा था। थोक विक्रेताओं के मुताबिक सरसों के तेल एवं रिफाइंड में 10 से 15 रुपये प्रति लीटर और कम हाे सकता है।

बिगड़ गया था किचन का बजट

बीते कुछ दिनों से महंगाई ने रसोई का बजट बिगाड़ रखा था। पहले आलू, प्याज, दाल और फिर खाद्य तेलों की बढ़ती कीमतों ने खाने का जायका कम कर दिया था। बीते दो माह से रिफाइंड एवं सरसों के तेल में आग लगी हुई थी। पिछले वर्ष अप्रैल-मई में सौ रुपये लीटर बिकने वाला सरसों का पैक्ड तेल 185 रुपये लीटर पहुंच गया था। इसी तरह रिफाइंड भी 90 से बढ़कर 175 रुपये बिकने लगा। इधर, एक सप्ताह से तेल की कीमतों में कमी आई है। शनिवार को थोक मंडी में ब्रांडेड पैक्ड सरसों का तेल 152 से लेकर 158 रुपये के बीच बिका।

रिफाइंड की कीमत भी गिरी

इसी तरह रिफाइंड भी 150 रुपये लीटर के आसपास आ गया है। कीमत में गिरावट का असर दो दिन बाद फुटकर बाजार में देखने को मिलेगा। थोक कारोबारी संजय कुमार ने बताया कि जिले में सरसों और रिफाइन तेल की आवक बरेली, राजस्थान के भरतपुर और मध्य प्रदेश से होती है। बीच में कीमत काफी बढ़ गई थी, अब धीरे-धीरे कम होने लगी है।

मांग कम होने के चलते कीमतों पर पड़ा असर

इससे व्यवसायियों के साथ-साथ आम लोगों को थोड़ी राहत मिलेगी। तेल की मांग कम होने के चलते भी कीमतों पर असर पड़ा है। बेनीगंज के किराना कारोबारी राजेश ने बताया कि दाल के बाद सरसों के तेल का दाम कम हाे रहे हैं। दाम बढ़ने से तेल की बिक्री 20 फीसद तक कम हो गई थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.