सम्‍मान समारोह में बोले विधायक-चुनौतियों से निपटने के लिए संगठित होना जरूरी Gorakhpur News

सम्मानित पूर्व पदाधिकारियों के साथ शिक्षक विधायक ध्रुव कुमार त्रिपाठी ।

शिक्षक विधायक ने कहा कि शिक्षकों की एकता ही संगठन की ताकत होती है। ऐसे में हम सभी लोगों को एकता पर कहीं से भी आंच नहीं आनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि लोगों के सहयोग से विधायक बना शिक्षकों के योगदान को नहीं भुलाया जा सकता है।

Satish chand shuklaSat, 27 Feb 2021 06:30 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। शिक्षक विधायक ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने कहा है कि शिक्षकों का परिवार इस समय ऐसे दहलीज पर खड़ा है, जिसके सामने तमाम चुनौतियां है। इससे निपटने के लिए शिक्षकों को संगठित होने की जरूरत है। शिक्षक विधायक उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के तत्वावधान में संगठन के सेवानिवृत्त पदाधिकारियों व स्वयं के अभिनंदन समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

शिक्षकों की एकता ही संगठन की ताकत

शिक्षक विधायक ने कहा कि शिक्षकों की एकता ही संगठन की ताकत होती है। ऐसे में हम सभी लोगों को एकता पर कहीं से भी आंच नहीं आनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि लोगों के सहयोग से विधायक बना, शिक्षकों के योगदान को नहीं भुलाया जा सकता है। शिक्षक समाज का आइना होता है। समाज को दिशा देता है। यदि शिक्षकों की समस्‍याएं सरकार नहीं सुन रही है तो मजबूर होकर आंदोलन का रास्‍ता अपनाना होगा। उन्‍होंने कहा कि हमारे लिए शिक्षक हित सर्वोपरि है।

निर्णायक संघर्ष की चेतावनी

पूर्व अध्यक्ष भक्तराज राम त्रिपाठी ने कहा कि मैंने संगठन के लिए पूरी ईमानदारी से कार्य किया है। सेवानिवृत्त होने के बाद भी हर संघर्ष में अंग्रिम पंक्ति में खड़ा रहूंगा। अध्यक्ष राजेश धर दूबे ने कहा कि आप सबकी एकता ही हमारा संबल है। उन्‍होंने चेतावनी देते हुए कहा कि वरिष्ठता सूची निर्गत होने के बाद यदि पदोन्नति नहीं की गई तो निर्णायक संघर्ष किया जाएगा। उन्होंने एनपीएस के राज्यांश के लिए शिक्षक विधायक से सहयोग की अपील की। कार्यक्रम के दौरान संगठन के पूर्व पदाधिकारियों भक्तराज राम त्रिपाठी, रमाकांत त्रिपाठी, रामनयन, गगहा के पूर्व मंत्री सादिक व कैंपियरगंज के पूर्व मंत्री रवींद्र यादव को अंग वस्त्र व रामायण की पुस्तक भेंट कर सम्मानित किया गया। संचालन जिलामंत्री श्रीधर मिश्र ने किया। इस दौरान माध्यमिक शिक्षक संघ के मंडलीय मंत्री ज्ञानेश राय, जिलाध्यक्ष डा.दिग्विजय पांडेय, मंत्री श्याम नारायण ङ्क्षसह, सुधांशु मोहन सिंह, हरेंद्र राय, ज्ञानेंद्र ओझा, वीरेंद्र धर दूबे, राजेश पांडेय, डा.गोविंद राय, अजय कुमार सिंह, अनिल पांडेय, योगेश कुमार शुक्ल, अनिल कुमार चंद्र, विजेंद्र प्रताप सिंह, अशोक सिंह, नरेंद्र प्रताप सिंह,  राजेश दूबे तथा विपिन दूबे आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.