सोहगीबरवा से उपचार के लिए लाए गए घायल तेंदुए की मौत

महराजगंज के सोहगीबरवा से उपचार के लिए चिड़‍ियाघर लाए गए तेंदुए ने कुछ देर बाद ही दम तोड़ दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि एक सप्ताह से घायल तेंदुए के गले में लिपटे क्लच वायर से बने घाव में कीड़े पड़ गए थे।

Rahul SrivastavaSun, 13 Jun 2021 03:56 PM (IST)
पिंजरे में बैठा सोहगीबरवा से पकड़ा गया तेंदुआ। फाइल फोटो

गोरखपुर, जेएनएन : महराजगंज के सोहगीबरवा से उपचार के लिए शुक्रवार रात शहीद अशफाक उल्ला खां प्राणि उद्यान (चिड़‍ियाघर) लाए गए तेंदुए ने कुछ देर बाद ही दम तोड़ दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि एक सप्ताह से घायल तेंदुए के गले में लिपटे क्लच वायर से बने घाव में कीड़े पड़ गए थे औ उसकी सांस की नली भी कट गई थी।

सांस लेने में दिक्‍कत पर लगाया गया आक्‍सीजन

महराजगंज वन विभाग की टीम रात 11 बजे के आसपास तेदुएं को लेकर चिड़‍ियाघर पहुंची। चिड़‍ियाघर के पशु चिकित्साधिकारी डा. योगेश प्रताप सिंह ने उसका उपचार शुरू किया। सांस लेने में दिक्कत होने पर उसे आक्सीजन भी लगाया गया, लेकिन कुछ देर बाद ही उसने दम तोड़ दिया। तेंदुए की उम्र आठ साल आंकी गई है। डा. योगेश के नेतृत्व में महराजगंज जिले के डा. संतोष कुमार जायसवाल और मुख्य पशु चिकित्साधिकारी कार्यालय से नियुक्त डा. नितिश राय ने उसका पोस्टमार्टम किया। गुरुवार रात तेंदुआ सोहगीबरवा के मुजा टोले में घुसे था। शुक्रवार सुबह ग्रामीणों को पता चला। गांव के चंदर पर हमला करने के साथ पांच बकरियों को भी उसने मार डाला था।

पहले भी हो चुकी है एक तेंदुए की मौत

बहराइच जिले से इस साल आठ अपै्रल को वन विभाग की टीम घायल तेंदुए को उपचार के लिए चिड़‍ियाघर ले आई थी। 19 अप्रैल को उस तेंदुए को भी मौत हो गई थी। उस तेंदुए ने आबादी में घुसकर आठ ग्रामीणों को घायल कर दिया था।

पोल्ट्री फार्म संचालक के घर फायरिंग का पांचवां आरोपित गिरफ्तार

आवास विकास कालोनी में पोल्ट्री फार्म संचालक के घर फायरिंग के पांचवें आरोपित गगहा के रियांव गांव के योगेश यादव को तिवारीपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। चार आरोपितों को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है।

कौड़ीराम में पोल्ट्रीफार्म चलाने वाले रवि प्रताप सिंह तिवारीपुर के आवास विकास कालोनी में परिवार के साथ रहते हैं। 31 मई की रात में बाइक सवार बदमाशों ने उनके दरवाजे पर फायरिंग कर दहशत फैला दी थी। पुलिस ने फुटेज की मदद से छह जून को वारदात में शामिल रामगढ़ताल के विवेकपुरम निवासी आदित्य सिंह, बुद्ध विहार कालोनी के रहने वाले शिवम अग्रहरी, कैंट क्षेत्र के बेतियाहाता निवासी राजेश तिवारी और गोरखनाथ के रामनगर निवासी अर्जित ङ्क्षसह उर्फ आकाश को 32 बोर पिस्टल और एक कारतूस के साथ गिरफ्तार कर जेल भेजा था। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.