साइबेरियन पक्षियों को भा रहा महराजगंज जिले के भिटौली क्षेत्र की आबोहवा

तराई इलाकाें में कलरव करने वाले विदेशी मेहमान पक्षी इन दिनों भिटौली क्षेत्र में पंख बिखेरे मिल जाएंगे। यह पहली बार है जब आबादी के करीब खादर क्षेत्र में साइबेरियन पक्षी दिखे हैं। तराई में ठंड बढ़ने के साथ ही साइबेरियन पक्षियों ने भी दस्तक देनी शुरू कर दी है।

Navneet Prakash TripathiMon, 29 Nov 2021 11:50 AM (IST)
भिटौली के खादर क्षेत्र में कलरव करते साइबेरियन पक्षी। जागरण

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। तराई इलाकाें में कलरव करने वाले विदेशी मेहमान पक्षी इन दिनों भिटौली क्षेत्र में पंख बिखेरे मिल जाएंगे। यह पहली बार है जब आबादी के करीब खादर क्षेत्र में साइबेरियन पक्षी दिखे हैं। तराई में ठंड बढ़ने के साथ ही साइबेरियन पक्षियों ने भी दस्तक देनी शुरू कर दी है। भिटौली के खादर क्षेत्र में व बरवा तालाब में विदेशी मेहमानों के कलरव की गूंज सुनाई देने लगी है। बरवा तालाब में भी साइबेरियन पक्षियों ने डेरा जमाना शुरू किया है।

फरवरी तक प्रवास करेंगे विदेशी मेहमान

फरवरी माह तक यह विदेशी मेहमान यहां प्रवास करेंगे। तराई की आबोहवा साइबेरियन मेहमानों के लिए मुफीद मानी जाती है। ठंड की शुरूआत होते ही साइबेरियन तराई में दस्तक देने लगते हैं। प्रतिवर्ष नवंबर माह से साइबेरियन मेहमानों की आमद शुरू हो जाती है। खादर क्षेत्र, बड़े तालाबों में ज्यादातर यह विदेशी मेहमान समय बिताते हैं। गर्मियों की शुरूआत होते ही फरवरी माह में यह साइबेरियन पक्षी पुन: हिमालय पार कर साइबेरिया का रुख कर लेते हैं।

यहां डेरा डालते हैं साइबेरियन मेहमान

घुघली विकास खंड के भिटौली के खादर क्षेत्र, पुरैना ताल, बरवा चमइनिया ताल, भैंसी ताल, परतावल क्षेत्र के पकड़ी दीक्षित ताल, भवसगरा ताल, मटिहनिया ताल, इनका डेरा बनता है। नवंबर के शुरुआत से साइबरियन पक्षियों का इन तालों में आने का सिलसिला शुरू होता है। फरवरी तक ये पक्षी यहां प्रवास करते हैं।

शिकारियों की भी होती है नजर

चार माह के प्रवास पर आने वाले साइबेरियन पक्षियों पर शिकारियों की भी नजर होती है। डीएफओ पुष्प कुमार के. ने बताया कि वन क्षेत्र स्थित तालाब, झील व नदियों में प्रवास करने वाले पक्षियों की सुरक्षा के लिए सभी रेंजों में वन दारोगा व वनरक्षकों को अलर्ट किया गया है।

शराब की दुकान संचालित होने से आक्रोश

स्थानीय क्षेत्र में सरकारी शराब की दुकान मुख्यमार्ग पर संचालित होने से क्षेत्र के लोगों ने आक्रोश है। चौक निवासी दुर्गेश गौंड़, अशोक कुमार,जंत्री मद्धेशिया, मोनू सिंह गोलू मद्धेशिया आदि लोगों ने बताया कि चौक में मुख्य मार्ग पर देसी शराब,अंग्रेजी शराब एवं बियर की दुकान संचालित होने से आए दिन नगर पंचायत में दुर्घटना होती रहती है , साथ ही महिलाएं एवं छात्राएं उधर से गुजरने से डरती हैं। थानाध्यक्ष चौक धर्मेन्द्र सिंह ने बताया कि जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.