गोरखपुर में पैदल गश्त पर निकले एडीजी ने ठेले वाले से पूछा, यहां का थानेदार कैसा है ?

गोरखपुर के गोरखनाथ थाना क्षेत्र में ठेले वाले से बातचीत करते एडीजी अखिल कुमार। - सौजन्‍य पुलिस विभाग

गोरखपुर में पैदल गश्‍त पर निकले एडीजी अखिल कुमार व्यापारियों और कुछ ठेले वालों से मिले। उन्‍होंने सड़क पर ठेले पर अंडा बेच रहे एक व्‍यापारी से उन्‍होंने पूछा कि आपको थानेदार कैसा है ? सिपाही रिश्‍वत तो नहीं मांगते हैं ? ठेलेवाले ने नहीं में उत्‍तर दिया।

Pradeep SrivastavaSun, 28 Feb 2021 12:20 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर पैदल गश्‍त पर निकले एडीजी अखिल कुमार गोरखनाथ थाना क्षेत्र में व्यापारियों और कुछ ठेले वालों से मिले। उन्‍होंने व्‍यापारियों से उनकी समस्‍याएं जानीं। सड़क पर ठेले पर अंडा बेच रहे एक दुकानदार से उन्‍होंने पूछा कि आपका थानेदार कैसा है ? सिपाही रिश्‍वत तो नहीं मांगते हैं ? ठेलेवाले ने नहीं में उत्‍तर दिया।

उनसे पुलिस के विषय में जानकारी ली। पूछा पुलिस उनकी समस्याएं सुनती है अथवा नहीं। बीट कांस्टेबल उनसे संपर्क करता है अथवा नहीं। इससे पूर्व वह तिवारीपुर में आयोजित संत रविदास जयंती समारोह में शामिल हुए। जयंती में एडीजी ने कहा कि शिक्षा के जरिये समाज में अपना स्थान प्राप्त किया जा सकता है। थानेदार कैसा है, बीट सिपाही मिलने आता है या नहीं।

आइजी व डीआइजी ने सुनी फरियाद : गोरखपुर के विभिन्न थानों पर आयोजित समाधान दिवसों में एडीजी जोन अखिल कुमार, आइजी रेंज राजेश मोदक, डीआइजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार भी पहुंचे। उन्होंने फरियादियों की समस्याएं सुनी और उसके निस्तारण का भी निर्देश दिया। राजस्व संबंधित मामलों के निस्तारण के लिए मौके पर टीम भेजी गई। एडीजी ने चिलुआताल थाने के प्रभारी निरीक्षक को निर्देशित किया कि वह थाने में पिंक टायलेट का निर्माण कराएं। ताकि फरियादियों को कोई कठिनाई ना हो।

भौतिक सत्‍यापन कर गुण दोष के आधार पर करें समस्‍याओं का निस्‍तारण : चिलुआताल थाने पर आयोजित समाधान दिवस में एडीजी अखिल कुमार की मौजूदगी में भूमि विवाद से संबंधित पांच मामले आए। इसमें से एक का मौके पर निस्तारण किया गया। एडीजी ने कहा कि राजस्व कानूनगो व लेखपाल बचे हुए फरियादियों की समस्याओं से रूबरू हो कर बीट सिपाहियों व संबंधित क्षेत्र के उप निरीक्षक के साथ मौके का भौतिक सत्यापन कर गुण दोष के आधार पर फरियादियों की समस्याओं को निस्तारित करने का काम करें। ताकि फरियादियों को बार-बार थाने आने की जरूरत ना पड़े। वादी को तत्काल न्याय मिल सके, इसके लिए उपनिरीक्षक व बीट सिपाहियों को थाना प्रभारी का हर स्तर पर सहयोग मिलना चाहिए। एडीजी ने प्रभारी निरीक्षक को निर्देशित किया कि वह थाने पर पिंक टायलेट की व्यवस्था सुनिश्चित करें। बाद में एडीजी पीपीगंज थाने में आयोजित समाधान दिवस में भी पहुंचकर लोगों की समस्याएं सुनें और निस्तारण के लिए थानाध्यक्ष को निर्देशित किया। आईजी राजेश डी मोदक खोराबार व रामगढ़ताल थाने पर आयोजित समाधान दिवस में शामिल हुए। लोगों की समस्याएं सुनीं और प्रभारी निरीक्षकों को निर्देशित किया कि टीम भेजकर फरियादियों की समस्याओं का निराकरण करें।

चौरी चौरा थाने में भी बनेगा पिंक टायलेट: चौरी चौरा थाने में आयोजित समाधान दिवस में पहुंचे डीआईजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने प्रभारी निरीक्षक को थाने में पिंक टायलेट बनवाने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि चौरी चौरा थाना से लेकर कस्बे तक नगर पंचायत के सहयोग से सीसीटीवी कैमरा लगवाया जाए। नगर पंचायत अध्यक्ष सुनीता गुप्ता ने कहा कि उ'चाधिकारियों से अनुमति लेकर जल्द ही पूरे कस्बे में सीसीटीवी लगवाया जाएगा।  उपजिलाघिरी पवन कुमार की अध्यक्षता में एसएसपी ने जनता की समस्याएं भी सुनीं। इस दौरान कुल दस मामले आए। दोनों अधिकारियों ने मौके टीम भेजकर फरियादियों के समस्या निस्तारण के लिए निर्देशित किया। एक महिला ने पति पर मारने पीटने का आरोप लगाया। एसएसपी ने मुकदमा दर्ज करने के लिए निर्देशित किया है।  एसएसपी ने कहा कि सभी उपनिरीक्षक अपने क्षेत्र के बूथों का निरीक्षण करें। लाइसेंसी शस्त्रों को जल्द थाने में जमा कराएं। सीओ चौरीचौरा दिनेश कुमार सिंह, नायब तहसीलदार अल्का सिंह, उपनिरीक्षक धीरेंद्र राय, विकास नाथ, प्रमोद कुमार गौतम, गुलाब चौधरी, राजेंद्र यादव, राजस्व निरीक्षक मुकेश चौधरी आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.